Breaking News

जिला सराफा व्यापारी एसोसिऐशन ‘‘डायमण्ड्स- है सदा के लिये’’ विषय पर सेमीनार आयोजित

हीरे को सिर्फ हीरे से ही काटा जा सकता है।

मन्दसौर। जिला सराफा व्यापारी एसोसिऐशन के तत्वावधान में जेमोलोजिकल इंस्टीट्यूट ऑफ अमेरिका (जीआईए) द्वारा मंदसौर के रितुवन होटल में ‘‘डायमण्ड्स- है सदा के लिये’’ विषय पर सेमीनार आयोजित किया गया। इस सेमीनार को जीआईए के अमृत पटेल एवं राहुल लादीवार ने हीरे के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी दी। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में जिला सराफा व्यापारी एसोसिऐशन के अध्यक्ष मोहनलाल रिछावरा एवं सचिव उमेश पारिख थे।  जीआईए के अमृत पटेल एवं राहुल लादीवार ने सेमीनार में बताया कि हीरा दुनिया का सबसे कठोर पदार्थ है हीरे को सिर्फ हीरे से ही काटा जा सकता है। खूबसूरत और आकर्षक हीरा कार्बन का विशुद्ध और मणिभीय रूप है। प्राकृतिक हीरों की प्राप्ति केवल प्राकृतिक खदानों से ही होती है। दुनिया के 95 प्रतिशत हीरे केवल अफ्रीका से ही मिलते है। खदानों से मिलने के बाद हीरे को निपुण जौहरियों की देखरेख में कुशल कामगारों द्वारा कलात्मक ढंग से तराश कर आकर्षक बनाया जाता है। आपने असली एवं सिंथेटिक हीरे की पहचान के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि असली हीरा खदान से निकलता है जबकि सिंथेटिक हीरा लेब में बनाया जाता है। आपने कहा कि हीरा न तो घिसता है और न ही इसका स्वरूप बिगड़ता है।  स्वागत उद्बोधन सचिव उमेश पारिख ने दिया। इस अवसर पर सराफा व्यापारीगण राजेन्द्र पोरवाल, रमेश मच्छीरक्षक, गौरव सोनी, कमल व्होरा, पंकज पोरवाल, शैलेष मोदी, गौरव तलेरा, सुनिल तलेरा, रोनक मिण्डा, अरूण मुरडि़या, भानु सोनी, अशोक सोनी मेलखेड़ा वाला, अभिलाष बाकलीवाल, ईशान जैन, प्रेरक जैन सहित अनेक व्यापारी उपस्थित थे। आभार गौरव सोनी ने माना।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts