जिले भर में मनाया गया बाबा रामदेव जी का सबसे बड़ा त्यौहार भादवी बीज

Hello MDS Android App

दिनभर मेले में श्रद्घालुओं की रही भीड़, हजारों ने किए बाबा रामदेव के दर्शन

मल्हारगढ़ में अखाड़े में करतब दिखाते विधायक जगदीश देवड़ा।

अखाड़ा उस्तादों का सम्मान करते अतिथि।

मंदसौर (मल्हारगढ़)। नगर में भादवा बीज पर प्राचीन बाबा रामदेव मंदिर पर दिनभर हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने बाबा रामदेव के दर्शन किए। दिनभर मंदिर में भक्तों का तांता लगा रहा। ढोल-ढमाकों व अखाड़ों के साथ बाबा रामदेव की शोभायात्रा निकाली गई। यह प्रमुख मार्गों से होते हुए मंदिर पहुंची। अनेक स्थानों पर शोभायात्रा का स्वागत किया गया। देवरा चौेक में विधायक जगदीश देवड़ा ने भी अखाड़े में करतब दिखाए। इस अवसर पर नप द्वारा अखाड़ा कलाकारों का सम्मान कार्यक्रम भी हुआ। इसमें विधायक जगदीश देवड़ा, भाजपा मंडल अध्यक्ष राजेश दीक्षित, नप अध्यक्ष दिनेश प्रजापति, जीतू जाट, घनश्याम चौधरी, ओमप्रकाश बटवाल, जीतू जाट आदि मंचासीन थे। अतिथियों ने मंदसौर के अखाड़ा कलाकारों व मल्हारगढ़ के अखाड़ा उस्तादों को सम्मानित किया। निशुल्क भोजन समिति के सदस्यों को भी अतिथियों ने सम्मानित किया। नन्हे-मुन्हे बच्चों व बालिकाओं ने अखाड़ों में करतब दिखाए। विधायक देवड़ा, ओमप्रकाश बटवाल, नप अध्यक्ष दिनेश प्रजापति ने संबोधित किया। संचालन धर्मेंद्र गेहलोद ने किया। आभार मेला समिति अध्यक्ष प्रकाश कछावा ने माना।

 

पिपलियामंडी। भादवी बीज पर अयोध्या बस्ती स्थित बाबा रामदेव मंदिर पर दो दिवसीय आयोजन हुए। सोमवार रात भजन-कीर्तन और मंगलवार को निशान का जुलूस निकाला गया। देवनारायण मोहल्ला से सुबह पूजा-अर्चना, आरती के पश्चात जुलूस प्रारंभ हुआ। इसमें श्रद्धालुजन डीजे व ढोल की थाप पर नाचते-थिरकते चल रहे थे। जुलूस कन्या शाला मार्ग, खारोल मोहल्ला, शिक्षक कॉलोनी, गांधी चौराहे से भ्रमण कर पुनः मंदिर पर पहुंचा। आरती के बाद प्रसादी वितरण हुआ। स्टेशन के पास अंबेडकर कॉलोनी स्थित बाबा रामदेव मंदिर पर भी विशेष पूजा-अर्चना हुई। सोमवार रात में जमले की रात भजन-कीर्तन हुए। मंगलवार को महाआरती व प्रसादी का आयोजन हुआ।

 

कनघट्टी। कनघट्टी व उगरान में बाबा रामदेवजी की झांकियां व जुलूस निकले। जगह-जगह जुलूस का स्वागत हुआ। समिति सचिव केसरीमल आर्य, घनश्याम आर्य, समरथमल आर्य, मनीष आर्य, राजमल आर्य भी शामिल थे। उगरान में कैलाश कीर, गौतम कीर, बबलू कीर, बद्रीलाल कीर, जगदीश कीर, रितेश कीर, लालूराम कीर, कन्हैयालाल कीर शामिल हुआ।

 

गरोठ। यहां वाल्मीकि समाज ने शोभायात्रा निकाली। स्टेशन रोड स्थित बाबा रामदेव मंदिर से बाबा रामदेव व भगवान शिव की झांकी के साथ डीजे की धुन पर श्रद्धालु जयकारे लगाकर नाचते-गाते शोभायात्रा में निकले। प्रमुख मार्गों से होती हुई पुनः मंदिर पहुंची। जहां महाआरती कर प्रसाद वितरित किया गया। बाबा रामदेव जयंती पर बारहमासी चौराहे पर स्थित बाबा रामदेव मंदिर पर एक दिवसीय मेले का आयोजन किया गया। इसमें आसपास के बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने बाबा रामदेव के दर्शन कर मेले का आनंद लिया। ग्राम बंजारी, बर्डिया अमरा, खजूरी में बाबा रामदेव जयंती पर कार्यक्रम हुआ।

 

सालरिया। रामदेवरा जाने वाले पैदल यात्रियों के लिए चाय-नाश्ता, भोजन पानी एवं रात को ठहरने की व्यवस्था सहित भंडारे का आयोजन सालरिया एवं करनाली के श्रद्धालुओं के सहयोग से 1 माह से चल रहा था। इसका उद्यापन रात को श्री सत्यनारायण भगवान की कथा, भजन-कीर्तन एवं जागरण कर सुबह हवन, महाआरती एवं महाप्रसादी वितरण की गई। साथ ही बाबा रामदेवजी की झांकी पर थिरकते हुए गुलाल एवं पटाखों के साथ गांव के प्रमुख मार्गों से होते हुए निकाली गई। इसमें गांव के अनेक श्रद्धालु उपस्थित थे।

 

बोलिया। ग्राम में मंगलवार को एक माह से हनुमान मंदिर परिसर में चल रहे बाबा रामदेव भंडारे का समापन हुआ। इस अवसर पर जय हनुमान नवयुवक मंडल द्वारा दोपहर 1 बजे मंदिर परिसर में 108 दीपों से महाआरती का आयोजन किया गया। महाप्रसादी बांटी गई। बड़ी संख्या में भक्तगण उपस्थित थे।

 

गांधीसागर। गांधीसागर नंबर-3 पर भादवा की बीज पर बाबा रामदेव का जुलूस निकाला गया। भक्तों द्वारा नाचते-गाते हनुमान मंदिर भानपुरा रोड से जुलूस का प्रारंभ किया गया। पूरे नगर में भ्रमण करते हुए गांधी सागर नंबर 8 पर जुलूस को बाबा रामदेव मंदिर पर विश्राम दिया गया। वहां पूजा-अर्चना कर प्रसाद वितरित किया गया। इसमें विशाल कलोशिया, प्रवीण कलोशिया, मदनलाल रायकवार, दिलीप सूर्यवंशी, गौरीलाल गुर्जर, सिद्घार्थ सोलंकी, दिनेश परमार, सुनील खोखर, आशीष पनिहार आदि मौजूद थे।

 

बालागुड़ा। अगर लगन हो तो कोई कार्य कठिन नहीं है और इच्छाशक्ति कमजोर हो तो आसान कार्य को भी हम पूरा नहीं कर सकते। खंडवा के पास स्थित ओंकारेश्वर के समीप ग्राम कल्याणपुरा के 25 वर्षीय समरथ मालवीय रामदेवरा की पैदल यात्रा के लिए घर से निकले हैं। पत्नी रोशनी मालवीय और 3 महीने की लाड़ली सपना को गोद में लेकर कल्याणपुरा से रामदेवरा तक करीब 1250 किमी यात्रा की पैदल यात्रा करेंगे। समरथ ने बताया कि अभी 10 दिन में करीब 460 किमी का सफर पैदल तय किया है और 15 दिन में शेष बचा हुआ मार्ग भी तय कर लेंगे। लगातार 8 वर्ष से पैदल कल्याणपुरा से रामदेवरा जा रहा हूं, लेकिन अब तीनों जा रहे हैं। बेटी सपना को भी धूप और बारिश के बीच पैदल धार्मिक यात्रा करा रहे हैं।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *