जुदाई मे एक युवक ने फांसी व दूसरे ने आग लगा कर आत्म हत्या की कोशिश करी

Hello MDS Android App

मंदसौर। जिले में दो अलग-अलग दो थानाक्षेत्रों में पत्नी वियोग पति द्वारा फांसी और दूसरे मामले में स्वयं का आग के हवाले करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने दोनोंं मामलों में प्रकरण दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। कोतवाली थानाक्षेत्र में चंदरपुरा के बसंत विहार कॉलोनी में हेमंत पिता ईश्वर उम्र 25 साल ने रविवार देर रात फांसी लगा ली। देर रात जब पिता ईश्वरलाल पहुंचे तो उन्हेंं पता चला। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और पंचनामा बनाया। सोमवार सुबह शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंपा। एएसआई महेश शर्मा ने बताया कि पिता ईश्वरलाल के बयान से सामने आया कि पत्नी आने के कारण उसने फांसी लगाईहै। मृतक की चार साल पहले शादी हुई थी। एक बेटी का करीब ढाई साल पहले देहांत हो चुका है। एक 11 माह का लड़का भी है। पत्नी पीहर उज्जैन के आगे नवला गांव में है। दोनों का प्रकरण न्यायालय में चल रहा है। मृतक ने रात को पत्नी से बात करने का प्रयास किया था, लेकिन नहीं हो पाई। अभी जांच की जा रही है।

वहीं दूसरी घटना शामगढ़ थानाक्षेत्र ग्राम बोरखेड़ी रेड़का गांव की है। यहां पर राजेंद्र पिता गंगाराम उम्र 30 साल ने स्वयं को आग के हवाले कर दिया। जिसे गंभीर अवस्था में 108 एंबूलेंस से शामगढ़ सरकारी अस्पताल लाए। यहां से प्राथमिक उपचार के बाद मंदसौर रैफर कर दिया गया। राजेंद्र ने बताया कि उसकी शादी सिलेहगढ़ राजस्थान निवासी दुर्गा से 2013 में हुई थी। आठ माह पहले मैंने पत्नी को डिलेवरी पर भेजा था। मेरे एक बच्ची है। कईबार मैं मेरी पत्नी दुर्गा और बच्ची को लेना भी गया। लेकिन ससुराल पक्ष वाले भेजने का तैयार नहीं है। सोमवार को आने का था। लेकिन वो आईनहीं। जिसके चलते मैं तनाव में आ गया और परेशान होकर मैंने मिट्टी का तेल डालकर आग लगा ली। थानाप्रभारी किशोर पाटनवाला ने बताया कि राजेंद्र की पत्नी उसके ससुराल में है। और उसके ससुराल वाले नहीं भेज नहीं है। जिसके चलते उसने स्वयं को आग लगाई। प्राथमिक उपचार के बाद राजेंद्र को जिला अस्पताल रैफर किया गया है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *