Breaking News

डे केअर सेंटर मंदसौर पर जन्मदिन मनाया

मन्दसौर। जीवन में दुःख और सुख स्थाई नहीं होते। खुशी और गम का आना जाना लगा रहता है, जो लोग इन परिस्थितियों को समभाव से लेते है वे ही दीर्घजीवी होते हैं।
यह विचार पं. दीनदयाल उपाध्याय वृद्धजन सेवा केन्द्र मंदसौर (डे केअर सेंटर) पर डाॅ. जानकीलाल ओझा के मुख्य आतिथि में केन्द्र समन्वयक डाॅ. देवेन्द्र पुराणिक ने सेवानिवृत्त शिक्षक मांगीलाल पोरवाल के 75वें जन्मदिवस पर आयोजित कार्यक्रम में व्यक्त किये।
कार्यक्रम के आरम्भ में डाॅ. ओझा एवं डाॅ. पुराणिक ने संस्था की ओर से श्री पोरवाल को शाल, श्रीफल भेंटकर दीर्घायु होने की कामना की।
पश्चात् संस्था के वरिष्ठजन श्री आर.पी. व्यास, टी.आर. महाजन, अम्बालाल चन्द्रावत, राजेन्द्र पोरवाल, सत्यनारायण श्रीवास्तव, रामचन्द्र बैरागी, अशोक क्षोत्रिय, भंवरसिंह सौलंकी, नवनीत डाबी, गोविन्द भटनागर, गोपालकृष्ण मोड़, राधेश्याम डाबी, रामनिवास वर्मा, नवीन त्रिवेदी, अजीजुल्लाह खान, नरेन्द्र राणावत, नन्दकिशोर राठौर, शालिग्राम दिया ने श्री पोरवाल को पुष्पहार पहनाकर जन्मदिन की बधाई दी।
इस अवसर पर बोलते हुए सेवानिवृत्त शिक्षक मांगीलाल पोरवाल ने अपने 75 वर्षीय जीवन का राज बताते हुए कहा कि सदा प्रसन्न रहना, कपट एवं इष्र्या को मन में नहीं पालना, सकारात्मक सोच एवं योग एवं प्राणायाम मेरे जीवन का प्रमुख अंग है। एक दूसरे से मिलते जुलते रहो एवं पैदल चलने को सबसे अधिक स्थान जीवन में देना चाहिये क्योंकि ‘‘जो चलेगा वो ही चलेगा’’। गायत्री मंत्र एवं महामृत्युंजय मंत्र के उच्चारण के साथ सभी ने श्री पोरवाल के चिरायु होने की मंगलकामना की।
कार्यक्रम का संचालन नन्दकिशोर राठौर ने किया एवं आभार राजेन्द्र पोरवाल ने माना।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts