Breaking News

तांत्रिक क्रिया कर रूपये डबल करने का झांसा देकर धोखाधड़ी के आरोपी में एक गिरफ्तार दो फरार, 4 लाख के नकली नोट बरामद

मंदसौर। भावगढ़ पुलिस ने एक तांत्रिक गिरोह को पकड़ने में सफलता प्राप्त कि है। जो नोटों को डबल करने का झांसा देकर लोगों के साथ ठगी करता था। इस मामले में पुलिस ने एक आरोपी को धरदबोचा है वहीं गिरोह के दो सदस्य फरार हो गए है। पुलिस ने एक आरोपी के कब्जे से 4 लाख दस हजार रूपये के नकली नोट भी बरामद किए है।

थाना प्रभारी प्रतिक रॉय व चौकी प्रभारी जेसी निनामा के अनुसार 21 जून 18 को फरियादी प्रेम पिता गौतम मईड़ा निवासी मरावद तह अरनोद जिला प्रतापगढ़ राजस्थान द्वारा पुलिस को लिखित आवेदन दिया था। आवेदन पत्र में बताया गया कि आरोपी आमीन खां पिता कल्लू खां मेवाती नाहर सैयद रोड़ मंदसौर, फारूख पिता लियाकत मुसलमान निवासी पिपलोदा जिला रतलाम जो कि प्रतापगढ़ व बांसवाड़ के गांव में तांत्रिक क्रिया करने आते जाते रहते थे। जिनको मैं जानता हॅू। फरियादी जनवरी 18 में मजदूरी के लिए दलौदा आया था। जहां पर आमीन व फारूख दलौदा के पेट्रोल पम्प के पास मिले और कहा कि मैं तांत्रिक क्रिया से दुगुने नोट बना देता हॅू। अगर तुम 10 लाख रूपये दोगे तो 20 लाख रूपये बना दूंगा। यह कहकर लालच का झांसा देकर बोला कि फारूख सद्दाम को 6 लाख रूपये दिये थे। फिर से तीन मुझसे बोले कि तुम यही बैठो हम सोनगरी बाबा की दरगाह पर जाकर तांत्रिक क्रिया कर पैसे डबल कर लाते है। जो एक दो घंटे बाद आमिन, फारूख व सद्दाम तीनों आए व मुझे काले कपड़े की पोटली दी। बोले की 15 दिन बाद गांठ खोलना। जो मैंने 15 दिन बाद खोली। तो उसमें कुल 1 लाख रूपये के नकली नोट व कपड़े के टुकड़े निकले। मैंने आमिन व फारूख से बोला कि यह रूपये नकली है तुम मुझे रूपये वापस कर दो। मैंने तीनों से रूपये मांगने पर उन्होने जान से मारने की धमकी दी। जिससे मैं डरकर अपने गांव चला गया। जहॉ एक शिक्षक के समझाने पर मैं पुनः दलौदा पुलिस में रिपोर्ट कराने आया।

पुलिस ने आवेदन पर कार्यवाही करते हुए। सोनगरी बाबा की दरगाह के सामने से आरोपी के घर से एक प्रिन्टर व कुल 4 लाख 10 हजार रूपये नकली नोट जब्त किए। आरोपी आमीन को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। जबकि फरार आरोपी फारूख व सद्दाम की तलाश जारी है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts