Breaking News

तीन दिनों की मशक्कत के बाद भी अभिनंदन नगर से वन विभाग नहीं पकड़ पा रहा लकड़बग्घा को

मंदसौर। अभिनंदन नगर व आसपास क्षेत्र के जंगल में घूम रहा लकड़बग्घा वन विभाग की पकड़ से अब भी दूर है। शनिवार को दो पिंजरे लगाने के बाद भी लकड़बग्घा कैद नहीं हुआ। रविवार को वन विभाग के अधिकारी फिर अभिनंदन नगर पहुंचे। पंजे के निशान देखे। पिंजरों में लकड़बग्घे के लिए खाने की सामग्री को और बढ़ाया गया। इधर लकड़बग्घे की दहशत के कारण रात में फैक्ट्रियों में आने-वाले मजदूर झुंड बनाकर निकल रहे हैं, वहीं बच्चों का घरों के बाहर खेलना भी बंद ही हो गया है।

लकड़बग्घे की दहशत खत्म नहीं हो रही है। पिछले तीन दिनों से वन विभाग के अधिकारी क्षेत्र में सर्चिंग कर रहे हैं, फिर भी उक्त जंगली जानवर का कहीं पता नहीं चल रहा है। रात होते ही लकड़बग्घे की दहशत बढ़ने के कारण लोग घरों से बाहर निकलने में भी डर रहे हैं। रात में फैक्ट्रियों के मजदूर भी घर से आते-जाते समय झुंड बनाकर ही निकल रहे हैं। शुक्रवार एवं शनिवार रात कर्मचारी कॉलोनी में लकड़बग्घा सड़कों पर दिखा था। इसके बाद से लोगों में डर और बढ़ गया है। लगातार मिल रही शिकायतों के बाद शनिवार को डीएफओ मयंक चांदीवाल भी अभिनंदन नगर पहुंचे थे। उन्होंने टिगरिया के 500 क्वार्टर के समीप खेतों में मुआयना कर लकड़बग्घा के पंजे के निशान के आधार पर कुछ-कुछ दूरी पर दो पिंजरे लगवाए थे। लेकिन रविवार रात तक पिंजरों में लकड़बग्घा कैद नहीं हो पाया। वन परिक्षेत्र अधिकारी जीएल मकवाना ने बताया कि रविवार को भी दिन में टीम ने सर्चिंग की है। रविवार शाम तक लकड़बग्घा पिंजरों में नहीं आ पाया था, इसके बाद पिंजरों में लकड़बग्घा के लिए खाने की सामग्री को और बढ़ाया गया है। लोगों से सावधानी बरतने के लिए भी कहा गया है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts