Breaking News

तेलिया तालाब को नष्ट करने की आपराधिक साजिश जनप्रतिनिधियों व कर्मचारियों पर दर्ज हो अपराधिक प्रकरण घाणावार साहू तेली समाज ने की मांग

मन्दसौर। भूमाफियाओं एवं नेताओं को लाभ पहुंचाने व तेलिया तालाब को साजिश के तहत नष्ट करने के लिये नक्शे केे साथ छेड़छाड़ कर लगभग 100 बीघा जमीन को डूब क्षेत्र से बाहर (एमडब्ल्यूएल यानी मैग्जीमम वाटर लेबल ) कर मंदसौर जिले के तत्कालीन कलेक्टर ने मंदसौर नगर के जनप्रतिनिधि पार्षद विद्या दशोरा एवं विधायक यशपालसिंह सिसौदिया के पत्र के माध्यम से तत्कालीन कलेक्टर ने तेलिया तालाब को तकरीबन 100 बिघा से भी अधिक छोटा कर दिया। तेलिया तालाब को छोटा करने व भूमाफियाओं को लाभ पहुंचाने  के लिये यह गहरी साजिश है। गौरतलब है कि घाणावार तेली समाज के पूर्वजों द्वारा नगर के भीषण जलसंकट को देखते हुए अपनी 484 बीघा जमीन तेलिया तालाब के निर्माण के लिये दी थी। जिसका उद्देश्य नगर के वासियों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराना था। जब तालाब छोटे की जानकारी समाजजन को लगी तो तबसे समाज में काफी आक्रोश है तथा कलेक्टर ओ.पी. श्रीवास्तव से मांग की है कि संबंधित जांच दल के खिलाफ जांच कर उन पर कार्यवाही करे। उल्लेखनीय है कि मंदसौर नगर के सभी कुएं व हैण्डपंप तेलिया तालाब के पानी पर निर्भर हैं।

उक्त बात कहते हुए घाणावार तेली समाज के प्रबुद्धजन सर्वश्री भागीरथ दशोरा, अध्यक्ष कैलाश डगवार, सचिव गोपाल धामनोदिया, विष्णु डगवार, भेरूलाल राठौर, कांतिलाल राठौर एडव्होकेट, बद्रीलाल बघेरवाल, बद्रीलाल बंधवार, बालाराम झरवार, राजेश बंधवार ने कहा कि जनहित मंे तालाब का गहरीकरण होना था परन्तु जनहित का नाम लेकर तालाब को छोटा कर दिया गया। तत्कालीन कलेक्टर मंदसौर स्वतंत्रकुमारसिंह द्वारा जो जांच कमेटी बनाई गई थी वो भी सवालों के घेरे में है क्योंकि पार्षद ने अपने पत्र में विकास योजना वर्ष 2001 का उल्लेख किया है परन्तु विकास योजना 2003 में लागू हुई थी तो तत्कालीन कलेक्टर द्वारा जो जांच समिति बनाई थी उसने भी भूमाफियाओं और जनप्रतिनिधियों के दबाव में अपने प्रशासकीय कर्तव्य का पालन न करते हुए एक षड़यंत्र रचकर आर्थिक अपराध किया हैं।

घाणावार साहू तेली समाज के मांगीलाल सरतलिया, ओमप्रकाश डगवार, रमेशचन्द्र इंदौरा, रामेश्वर दशोरा, पुरूषोत्तम वातरा, रमेश वातरा, दिनेश वातरा, बालकिशन बंधवार, राधेश्याम डगवार, कन्हैयालाल मावर, देवीलाल हुरेलिया, विनायक सरतलिया, कपिल मावर, जयप्रकाश राठौर, पुरूषोत्तम इंदौरा, अनिल बंधवार ने कलेक्टर ओ.पी.श्रीवास्तव से मांग की है कि दोषी जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों ने तेलिया तालाब को नष्ट करने का जो षड़यंत्र किया है उनके विरूद्ध अपराधिक प्रकरण दर्ज किया जाये और दोषी कर्मचारियों को निलंबित किया जाये। साथ ही सभी अन्य समाजों से भी मांग की है कि इस षड़यंत्रकारी कुकृत्य का विरोध किया जाये।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts