Breaking News

तैलिया तालाब पैदल पुल के लिये वेस्ट वियर वाल के समीप ठेकेदार ने की खुदाई, तालाब के भविष्य पर खतरा

Hello MDS Android App

मंदसौर। तैलिया तालाब की सुंदरता बढाने एवं पर्यटको का आकर्षित करने के उददेश्य से वर्तमान मे तालाब पर पैदल पुल का निर्माण नपा द्वारा किया जा रहा है। इस पुल के निर्माण के दौरान पुल के विसंगतिपूर्ण निर्माण, गुणवत्ताहिन निर्माण सामग्री एवं तालाब वेस्ट वियर वाल के समीप की गयी खुदाई की शिकायत मिलने के बाद कल कांग्रेस पार्षद दल ने तैलिया तालाब पहुंचकर पैदल पुल निर्माण कार्य का निरिक्षण किय। इस दौरान शहर ब्लॉक कांग्रेेस अध्यक्ष व पार्षद मोहम्मद हनिफ शेख, पार्षद डिकपालसिंह भाटी, हाजी रशीद, जिला कांग्रेस मिडीया प्रभारी सुरेश भाटी सहित कई कांग्रेसजनो ने लगभग डेढ घंटे तक निर्माण स्थल का भ्रमण कर नपा इंजिनियर एवं ठेकेदार के प्रतिनिधियो से चर्चा की।

निरिक्षण के दौरान कांग्रेस पार्षद दल ने तालाब वेस्ट वियर वाल के समीप की गयी खुदाई को तालाब के भविष्य के लिये खतरनाक बताते हुये कडा ऐतराज जताया। नपा इंजिनियर बीबी गुप्ता को प्र्रतिबंधित क्षेत्र में खुदाई पर कांग्रेस पार्षदो द्वारा जवाब मांगे जाने पर स्पष्ट जवाब नही दे पाये, इस दौरान ठेकेदार के प्रतिनिधि को बुलाकर कांग्रेस पार्षदो ने इस गंभीर चुक पर चेतावनी दी।

शहर ब्लॉक कांगेस अध्यक्ष व पार्षद मोहम्मद हनिफ शेख ने ऐतराज जताते हुये कहा कि जब इस तालाब का स्वामित्व जलसंसाधन विभाग के पास था तब भी गहरीकरण कार्य को इस क्षेत्र में नही किया गया ताकी ताला के लिक होने ( फूटने ) की संभावना नही हो, अगर इस खुदाई से तालाब को नुकसान होता है तो इसकी संपूर्ण जवाबदेही नपा पदाधिकारियो व ठेकेदार की होगी।

 

मिट्टी युक्त बालु और गिटटी से हो रहा था निर्माण, जतायी आपत्ति
कांग्रेस पार्षदो ने मौके पर मिट्टी युक्त बालुरेत एवं गिटटी से निमाण कार्य होेने पर आपत्ति जतायी। कांग्रेस पार्षद डिकपालसिंह भाटी ने दो दिन पूर्व भी घटिया निर्माण सामग्री का उपयोग होने एवं इसका विडियो होने का दावा करते हुये कहा कि जहां पर भी पुल या अन्य बडे बहुउपयोगी पुलो का निर्माण होता है उसमें लगने वाली रेत और गिट्टी को धोया जाता है ताकी मिट्टी के कारण पुल की निर्माण गुणवत्ता पर असर नही हो लेकिन नपा ठेकेदार द्वारा खुले रूप से मिलावटी निर्माण साम्रगी का उपयोग हो रहा है।

 

गिली मिट्टी का दिया सपोट, सेन्टिंग बीच में से दबी
मौके पर मिडीयाकर्मियो के साथ मौका मुआयना के दौरान पुल निर्माण के लिये लगायी गयी गिली मिट्टी के कारण निर्माण के पूर्व लगायी गयी सेंिटंग का भी मुआवना किया। इस दौरान पार्षदो एवं मिडीयाकर्मियो ने साफ देखा कि गिली मिटटी के उपयोग के कारण पुल की सेटिंग बीच में से खिसकी हुई है जिससे पुल के लेवल में अंतर आयेगा। इस दौरान भराव के लिये तालाब के बाहर से मोहरर्म नही मंगवाते हुये तालाब की गिली मिट्टी के उपयोग को गंभीर चुक करार दिया।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *