Breaking News

दलौदा में महाविद्यालय का शुभारंभ, नवप्रवेशी बच्चों का हुआ स्वागत

जो कहते है वह कर दिखाते है मुख्यमंत्री- श्री सिसौदिया

मंदसौर। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान जनहितैषी मुख्यमंत्री है वे हर व्यक्ति की चिंता करते है जो कहते है वे कर दिखाते है । विकास की ललक उनके मन में है यही कारण है कि एक ग्राम पंचायत में शासकीय महाविद्यालय की न केवल घोषणा की बल्कि सात महिनें के अल्प समय में उसे क्रियान्वितकर दलौदा में महाविद्यालय को प्रारंभ करवा दिया ।

यह बात विधायक यशपालसिंह सिसोदिया ने दलौदा में शासकीय महाविद्यालय के शुभारंभ अवसर पर नव प्रवेशी बच्चों का स्वागत करते हुए कहीं । श्री सिसौदिया ने कहा कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान लगातार गांव, गरीब और किसान के विकास की चिंता करते है । मध्यप्रदेश कैसे स्वर्णिम मध्यप्रदेश बने इसके लिए दिन-रात परिश्रम करते है  जिसके चलते प्रदेश लगातार उन्नति कर रहा है । श्री सिसौदिया ने कहा कि जो लोग कहते है कि मुख्यमंत्री केवल घोषणा करते है उनके लिए दलौदा का महाविद्यालय एक तमाचे जैसा है क्योंकि सात महिनें के अल्प समय में महाविद्यालय ने आकार ले लिया है, 20 जुलाई को महाविद्यालय की मांग हुई यदि शासन चाहता तो केवल कला संकाय की स्वीकृति देकर महाविद्यालय को प्रारंभ कर देता लेकिन मुख्यमंत्री की सह्रदयता थी कि उन्होने कला, वाणिज्य, विज्ञान और कम्प्यूटर विज्ञान की स्वीकृति देकर 47 पदों की स्वीकृति दी है और सात महिनें के अल्प समय में महाविद्यालय को प्रारंभ कर दिया है । श्री सिसौदिया ने कहा कि मुख्यमंत्री की मंशा को पुरा करने में मंदसौर के शासकीय महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य और पुरे स्टाफ ने भी सहयोग करते हुए घोषणा की है कि वे स्वेच्छा से अपना कुछ समय दलौदा महाविद्यालय के बच्चों को अध्ययन कराने के लिए प्रदान करेंगे जो सराहनीय है ।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts