Breaking News

दादा हत्या कांड : फास्ट ट्रेक कोर्ट में चलेगा केस, तीन माह में मिलेगी सजा!

मंदसौर। नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार हत्याकांड के मामले में पुलिस की आरोपित से पूछताछ सोमवार को भी जारी रही। पुलिस मामले को फास्ट ट्रेक कोर्ट में चलवाकर तीन माह में आरोपित को सजा दिलाने का प्रयास करेगी। केस डायरी को इस तरह मजबूत बनाया जा रहा है कि कोर्ट में उठने वाले हर सवाल का जवाब भी सबूत के साथ तैयार रहे। पुलिस ने मौके के नक्शे भी तैयार कर लिए हैं। इसके अलावा एफएसएल की टीम भी सबूत एकत्र करने में जुटी है। शहर के हत्याकांड को लेकर पनप रहे गुस्से को लेकर भी पुलिस अधिकारी सतर्क हैं और इस मामले में दूसरे एंगल अभी भी खंगाल रहे हैं।

पुलिस अधिकारी चाह रहे हैं कि बंधवार के जीवन से जुड़ी और कोई बात हो तो उसका संबंध भी केस से हो सकता है। इसलिए बंधवार के साथ रहे हर व्यक्ति से बातचीत कर यह जानने की कोशिश हो रही है कि कहीं कोई ऐसा व्यक्ति तो नहीं था जिसने मनीष का फायदा उठा लिया हो। इस संबंध में अब तक दो-तीन नजदीकी लोगों से भी बातचीत की गई है, जिनमें नपा उपाध्यक्ष भी शामिल है, पर सभी का यह कहना है कि बंधवार ऐसे व्यक्ति थे, जो अपने दुश्मन से भी गले लगकर मिलते थे। उनसे ज्यादा देर कोई नाराज रह ही नहीं सकता था। पुलिस बंधवार हत्याकांड के मामले को फास्ट ट्रेक कोर्ट में चलाने के हिसाब से ही तैयारी कर रही है ताकि आरोपित को तीन से चार माह में सजा हो जाए। इसी लिहाज से एसपी टीके विद्यार्थी, एएसपी सुंदरसिंह कनेश, सीएसपी राकेश मोहन शुक्ला, वायडी नगर टीआई विनोदसिंह कुशवाह सहित अन्य अधिकारी लगातार आरोपित से पूछताछ भी कर रहे हैं और उसी लिहाज से चालान में लगने वाले आवश्यक कागजातों की तैयारी हो रही है।

सलाखों से टकरा दिया सिर

इधर पूछताछ के दौरान आरोपित मनीष बैरागी ने हवालात की सलाखों से अपना सिर टकरा दिया। सिर में चोट लगने पर उसे जिला चिकित्सालय में लाया गया। वहां चिकित्सकों ने मामूली चोट बताई।

एसपी ने लगाई फटकार, ऐसी होती है नाकाबंदी?

17 जनवरी की शाम नपाध्यक्ष की हत्या के बाद रात में पुलिस द्वारा जिलेभर में की गई नाकाबंदी के बाद भी आरोपित मनीष बैरागी मंदसौर से सीतामऊ, गरोठ होते हुए भवानीमंडी तक पहुंचा गया था। इसे लेकर पुलिस की भी काफी हंसी उड़ रही थी। एसपी टीके विद्यार्थी ने रविवार रात में उन सभी पुलिसकर्मियों को जमकर फटकार लगाई है कि ऐसी होती है क्या नाकाबंदी? इसके बाद एसपी विद्यार्थी ने नए सिरे से चेकिंग पॉइंट लगाने के लिए भी पुलिस टीम को कहा है। इसके लिए सोमवार शाम वायरलेस पर भी सभी थाना प्रभारियों को भी कहा गया है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts