Breaking News

दिन रात हो रहे अवैध बोरवेल खनन प्रशासन की आँख तक नही खुल रही

लगातार गिरते भू:जल स्तर को देखते सरकार ने बोरवेल खनन पर जिले में पूर्ण रूप से प्रतिबंधित कर रखा है परन्तु बोरवेल माफिया अब दिन रात अवैध खनन में कर रहे है पिछले साल जिले में जल स्तर 800 वर्ग फिट नीच चला गया था अच्छी बारिश की वजह से थोडा बहुत चल स्तर ऊपर आया पर बोरवेल खनन माफिया फिर से सक्रिय हो गए गरीब आदमी के बस से अब खेती का काम भी हाथ से निकल ने लगा है क्योकि गरीब किसान का कुँआ तो महज 50 से 70 फिट होता है ऐसे में कुँआ के पास में बोरवेल होता तो स्वतः ही कुँआ में पानी नही रहेगा गरीब किसान का कुँआ तो सुखा ही रह जायेगा। प्रशासन के पास भी बोरवेल के पुख्ता आंकड़े नही है जबकि दलौदा धुंधड़का क्षत्र में ही 3 हजार से ज्यादा बोरवेल हुए है मन्दसौर जिले के नगरी कचनारा धमनार धुंधड़का लदुसा दलौदा लसुडावन बड़वन रिंडा डिगाव् गुर्जरबड़िया अफजलपुर झावल रातीखेड़ी कुचडोद सीहोर हो रहे है परन्तु प्रशासन के कानो में आवाज तक नही आ रही है
सारा खेल गांधी समझोते में हो रहे है जिला कलेक्टर से निवेदन हे की बोरवेल माफियाओ पर कार्यवाही करके गरीब किसान को आर्थिक संकट से बचाए।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts