Breaking News

दिव्यांग अब्दुल ने दो गोल्ड और एक सिल्वर पदक जीतकर रोशन किया नाम

पदक लेकर पहुंचा विधायक सिसौदिया के निवास और लिया आशीर्वाद

मंदसौर। प्रतिभा किसी की मोहताज नही होती और ना ही उसे इस बात की परवाह होती है कि व्यक्ति शारीरिक रूप से सक्षम है या नही बल्कि प्रतिभा को निखारने के लिए आवश्यकता होती है मजबूत मन और कड़ी मेहनत की। इस बात को साबित किया अपने दो हाथ गवा चूके नन्हें बालक अब्दुल कादीर ने जो राष्ट्रिय पेरा ओलम्पिक में दो गोल्ड और एक सिल्वर पदक जीतकर शहर का एक बार फिर शहर का नाम रोशन किया। बालक अब्दुल कादीर सम्मानित होकर जैसे ही लोटा मंदसौर विधायक यशपालसिंह सिसौदिया के निवास पर पहुंचा और उनसे भेंट की जहां श्री सिसौदिया ने उसका स्वागत किया और उसके उज्जवल भविष्य और उतरोत्तर उन्नति की मंगल कामनाएं की।

रतलाम के रहने वाले दिव्यांग अब्दुल हुसैन कादीर ने तीसरी बार नेशनल पेरा ओलम्पिक प्रतियोगिता में भाग लिया राजस्थान के उदयपुर में आयोजित 17 वीं नेशनल पेरा ओलम्पिक प्रतियोगिता के अण्डर 14 में दो गोल्ड और एक सिल्वर पदक जीता। उसने बटर फ्लाय में 2 मिनिट 10 सेकण्ड एवं बेक स्टोक में 2 मिनिट 5 सेकण्ड में 100 मीटर की स्विमिंग की इसी तरह फ्री स्टाइल में 1 मिनिट 58 सेकण्ड पर रहकर सिल्वर पदक जीता।

उल्लेखनीय है कि दस वर्षीय अब्दुल के दोनों हाथ नही है पूर्व में कर्नाटक व जयपुर में हुई नेशनल पेरा ओलम्पिक में भाग लेकर तीन गोल्ड व दो सिल्वर पदक जीत चुका है। पदक लेकर बुधवार की सुबह अब्दुल कादीर उदयपुर से सीधे मंदसौर पहुंचा जहां सबसे पहले उसने विधायक यशपाल सिंह सिसौदिया से भेंट की। बता दें अब्दुल कादीर की प्रतिभा को आगे बढ़ाने में विधायक यशपालसिंह सिसौदिया ने लगातार उसकी मदद की इसी के चलते अब्दुल कादीर अपने शहर जाने से पहले मंदसौर आया और विधायक सिसौदिया के निवास पर पहुंचकर उनसे भेंट की।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts