Breaking News

धनतेरस पर सोम प्रदोष तो दीवाली पर गुरु – शनि का योग

मंदसौर। कृष्ण पक्ष अमावस्या 7 नवंबर को धन की देवी महालक्ष्मी की विशेष पूजा होगी। इस बार कईसालो बाद दीपावली पर गुरु और शनि का दुर्लभ योग बन रहा है। दीपावली पर देव गुरु बृहस्पति, मंगल के स्वामित्व वाली वृश्चिक राशि में रहेंगे। इसके अलावा मंगल ग्रह शनि के स्वामित्व वाली कुंभ राशि में रहेंगे। शनि ग्रह गुरु के स्वामित्व वाली राशि धनु में रहेंगे। शुक्रग्रह अपनी तुला राशि में रहेंगे। शुक्र ग्रह के तुला राशि में होने के कारण मालव्य योग भी बनेगा। इस योग में शुरू किए गए कामों से धन- धान्य में वृद्धि होगी। दीपावली पर स्वाति नक्षत्र शाम 7.36 बजे तक रहेगा। आयुष्मान योग शाम 5.56 बजे तक रहेगा। इसके बाद सौभाग्य योग और धूम्र योग भी रहेगा

धन तेरस पर सोम प्रदोष
धन तेरस 5 नवंबर को है। सोम प्रदोष के संयोग में धन तेरस आएगी। इस दिन वाहन, मकान, जमीन, इलेक्ट्रॉनिक्स, सोना-चांदी, बर्तन की खरीदी की जा सकती है। पंडित के अनुसार धन तेरस पर चांदी की खरीदी शुभ रहती है। राशि के अनुसार भी खरीदी की जा सकती है। इस दिन हल्दी मिले जल से स्नान करें। शाम को उत्तर दिशा की ओर मुंह करके घी का दीपक जलाएं।

दीपावली पूजन के मुहूर्त
प्रदोषकाल- शाम 5.30 से रात 8 .16 बजे तक।
शुभ की चौघडिय़ा – शाम 7.08 से रात 8 .46 बजे तक।
अमृत की चौघडिय़ा- रात्रि 8 .46 से 10.23 बजे तक।
लग्न के अनुसार भी कर सकते हैदीवाली पूजन

धनु लग्न- उद्योग, प्रतिष्ठान में लक्ष्मी पूजन धनु लग्न में श्रेष्ठ रहेगा। दीपावली पर धनु लग्न सुबह 9.24 से 9.39 बजे तक रहेगी।

कुंभ लग्न- दोपहर 1.35 बजे से 2.53 तक रहेगी। इस समय माता लक्ष्मी, गणेश, त्रिदेव, नवग्रह, कुबेर, रिद्धि-सिद्धि, बही खाता, कलम दवात का पूजन करना श्रेष्ठ रहेगा।

मेष लग्न- शाम 4.19 बजे से शाम 5.54 बजे तक मेष लग्न रहेगी। यह लग्न सूर्य, चंद्र और शुक्र से प्रभावित होकर अत्यंत सुखद रहेगी। इस लग्न में गोधूलि बेला और प्रदोष बेला का समागम जातकों को सफलता दिलाएगा।

वृषभ लग्न- शाम 5.54 बजे प्रदोष के समय शुरू होकर शाम 7.50 बजे तक रहेगा। वृष लग्न में बुधए गुरु की सप्तम दृष्टि तथा मंगल की चौथी दृष्टि पड़ेगी जो भौतिक विकास में सहायक होगी।

मिथुन लग्न- शाम 7.50 बजे से शुरू होकर रात 10.45 बजे तक रहेगी। इस लग्न पर शनि का सीधा प्रभाव पडऩे से उद्योग संचालकों पर लक्ष्मी की विशेष कृपा रहेगी।

कर्क लग्न- रात 10.45 बजे से 12.23 बजे तक रहेगी। इस लग्न में पूजन करने से कामों में उन्नति मिलती है।

सिंह लग्न- मध्य रात्रि 12.46 बजे से रात 3.02 बजे तक सिंह लग्न रहेगी। इस समय मां लक्ष्मी शेर पर सवार होकर भक्त के घर आती हैं।

गोधूलि बेला- शाम 5.48 बजे से रात 8 .12 बजे तक गोधूलि बेला रहेगी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts