Breaking News

नए साल में 17 जनवरी से होंगे विवाह

मंदसौर. ग्रह-नक्षत्रों की चाल बदलने के कारण 17 जनवरी तक मांगलिक कार्य नहीं होंगे। 17 जनवरी से शहनाई गूंजने लगेगी। मांगलिक कार्यक्रम सहित अन्य शुभ कार्य शुरु हो जाएंगे। शादियों में ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए बाजार में एक से बढक़र एक ट्रेडिशनल, डिजाइनर व इनोवेटिव ज्वेलरीज उपलब्ध है। उल्लेखनीय है कि खरमास होने के कारण 16 दिसंबर 2018 से विवाह, उपनयन संस्कार, गृह प्रवेश, गृहारंभ जैसे शुभ कार्योंं के मुहूर्त नहीं थे।

मकर संक्रांति से सूर्य का होगा राशि परिवर्तन 
ज्योतिर्विद ने बताया कि पौष माह में सूर्य ग्रह गुरु की राशि धनु में है। जब सूर्य धनु राशि में होते हैं तो मांगलिक कार्यों के मुहूर्त नहीं होते हैं। सूर्य के धनु राशि में होने पर खरमास होता है। खरमास में शुभ कार्य वर्जित होता है। मकर संक्रांति से सूर्य का राशि परिवर्तन होगा। मकर संक्रांति के बाद 17 जनवरी से मांगलिक कार्यक्रम शुरू होंगे। वर्ष 2018 में 16 दिसंबर से सूर्य ग्रह का प्रवेश धनु राशि में हो गया था जो 14 जनवरी तक धनु राशि में ही रहेंगे।

107 दिन हो सकेंगे विवाह
मकर संक्रांति के बाद 17 जनवरी से वैवाहिक मुहूर्त शुरू होंगे और वर्ष 2019 में 107 दिन शहनाई गंूजेगी। जनवरी में 10 दिन शादियां होंगी। उसके बाद फरवरी, अप्रैल, मई, जून, जुलाई में वैवाहिक मुहूर्त हैं। देवशयनी एकादशी के बाद नवंबर और दिसंबर में भी शहनाई की गंूज सुनाई देगी। साल के आखिरी दोनों महीने में डेढ़ दर्जन से अधिक लगन हैं। जबकि, ग्रहों की स्थिति के कारण 2018 में देव उठनी एकादशी के बाद लगन नाममात्र की तिथियों में ही थी। मकर संक्रांति के बाद शादियां शुरू होंगी तो एक ही तिथियों में ज्यादा शादियां होंगी।

बढ़ सकती है सोने की कीमत
लेकिन नए साल की शुरुआत में सोने के दामों में तेजी देखने के मिल रही है। सराफा व्यापारियों के अनुसार सोना कैडवरी अभी 32 हजार 500 प्रतिग्राम है। आने वाले दिनों में तेजी देखने को मिलेगी। उन्होंने बताया डॉलर के मुकाबले रुपया कमजोर होने से सोने की कीमत बढ़ रही हैं और यह 34 हजार प्रतिग्राम तक पहुंच सकती हैं।

ग्राहको को लुभा रही विभिन्न प्रकार की ज्वेलरी
शादियों के मौके पर सोने- चांदी की खरीदारी के लिए ग्राहक पूरी तैयारी में हैं। जानकारी अनुसार ट्रेडिशनल लुक में गोल्ड के साथ जड़ा कुंदन का क्रेज ग्राहकों को लुभा रहा है। येलो गोल्ड की सबसे ज्यादा डिमांड होती है। येलो गोल्ड में भी गहनों के कई डिजाइन मार्केट में उपलब्ध हैं। खासकर लाइव वेट के पेंडेंट इयर रिंग्स, टॉप्स और फिंगर रिंग में काफी बारीकी से कारीगरी की गई है, जिस कारण इसका खूबसूरत लुक ग्राहकों को लुभा रहा है। येलो गोल्ड की बात करें तो कुंदन का टच गोल्ड इसे और भी चमकदार बना देता है। जड़ाऊ लुक मिलने के बाद किसी भी आइटम का लुक हेवी और यूनिक नजर आने लगता है।

 

नए साल में 14 जनवरी को सूर्य के मकर राशि में प्रवेश करते ही खरमास समाप्त हो जाएगा। इसके साथ ही हिंदू घरों में शुभ और मांगलिक कार्य आरंभ हो जाएंगे। नए साल में 17 जनवरी से शहनाइयां गूंजना शुरु हो जाएंगी। हिंदू कैलेंडर के विक्रम संवत 2076 के अनुसार इस वर्ष 2019 में शादी-विवाह सहित अन्य मांगलिक कार्य के लिए 71 शुभ मुहूर्त पड़ रहे हैं।

21 शुभ मुहूर्त

  1. पंडितों के मुताबिक, पिछले साल की तुलना में इस वर्ष 21 शुभ मुहूर्त ज्यादा हैं। 2018 में अधिकमास होने की वजह से शादी-विवाह सहित अन्य शुभ व मांगलिक कार्य के लिए शुभ मुहूर्त कम थे। वर्ष 2018 में 50 दिन ही शहनाइयां बजी थीं। पंडित रमेश चंद्र त्रिपाठी और सुधीर पाठक के अनुसार जनवरी 2019 में 5 दिन, फरवरी में 10, मार्च 5, अप्रैल 10, मई 14, जून 13, जुलाई 2, नवंबर 8 व दिसंबर महीने में 4 दिन विवाह और मांगलिक कार्य के लिए शुभ मुहूर्त हैं।
  2. ये हैं विवाह के लिए शुभ मुहूर्त

    •  जनवरी – 7, 18, 25, 26, 29।
    •  फरवरी – 1, 8, 9, 10, 15, 21, 23, 24, 26, 28।
    •  मार्च – 2, 7, 8, 9, 13।
    •  अप्रैल – 16, 17, 18, 19, 20, 22, 23, 24, 25, 26।
    •  मई – 2, 6, 7, 8, 12, 14, 1517, 19, 21, 23, 28, 29, 30।
    •  जून – 8, 9, 10, 12, 13, 14, 15, 16, 17, 18, 19, 25, 26।
    •  जुलाई – 6, व 7।
    •  नवंबर – 8, 9, 10, 14, 22, 23, 24 व 30।
    •  दिसंबर – 5, 6 11 व 12।
  3. ये होंगे अबूझ व स्वयं सिद्ध मुहूर्त

    • 10 फरवरी बसंत पंचमी, 8 मार्च फुलेला दूज, 7 मई अक्षय तृतीया, 13 मई जानकी नवमी, 19 मई वट सावित्री पूजा, 12 जून गंगा दशहरा, 10 जुलाई अक्षय नवमी, 12 जुलाई देवशयनी व 8 नवंबर देव उठानी।
    •  विवाह के शुभ नक्षत्र – हस्त, उत्तराफाल्गुनी, उत्तराषाढ़ा, उत्तराभाद्रपद, स्वाति, मघा, मूल, अनुराधा, मृगशिरा, रेवती, रोहिणी।
    •  विवाह के शुभ महीने – माघ, फाल्गुन, वैशाख, ज्येष्ठ, आषाढ़, मार्गशीर्ष

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts