Breaking News

नगर के हर बड़े भवन में एमओएस का उल्लघंन

गांधी चौराहे पर कि गई द्वेषतापूर्ण कार्यवाही के बाद नपा कर पाऐंगी अन्य भवनों पर कार्यवाही ?

मंदसौर। नगर पालिका ने मंगलवार को गांधी चौराहे पर ताबड़तोड़ जेसीबी मशीनों को लेकर निर्माणाधीन भवन को तोड़ने के लिए नपा के अधिकारी और पूरा अमला पहंुच गया। बताया जाता हैं कि निर्माणकर्ता द्वारा एमओएस का पालन नहीं किया था इस कारण निर्माणाधीन भवन को तोड़ा गया। लेकिन ऐसा नहीं है कि गांधी चौराहा पर निर्माणाधीन सिर्फ इसी भवन में एमओएस का उल्लघंन किया गया हो। एमओएस का उल्लघंन नगर में बन रहे लगभग हर बड़े भवन में किया जा रहा है। लेकिन नपा द्वारा उन पर आज तक कोई कार्यवाही नहीं कि गई।

बुधवार को नपा के अधिकारियों ने द्वेषतापूर्ण भावना से उक्त भवन पर कार्यवाही तो कर दी। लेकिन अब नपा खुद कठघरे में खड़ी है। इस कार्यवाही के बाद गुरूवार को दिनभर नपा में यही चर्चा रही की अब क्या सीएमओ मेडम अन्य निर्माण को भी तोड़ पायेगी। यह एक बहुत बढ़ा प्रश्न है। क्यांेकि कई इमारतों वालों ने तो नपा के हर अधिकारी को हर स्तर पर सेट करके नियमों का उल्लघंन कर निर्माण किया है। ऐसे में जिन अधिकारियों ने नियमों को उल्लघंन कर निर्माण करने वालों से आर्थिक लाभ लिया है वे भी संकट में आ गए है कि अब क्या होगा?

डॉ पाटीदार का भवन नहीं दिख रहा सीएमओ को

शहर के तिरूपति नगर में चैनसुख पाटीदार का बडा आलिशान भवन बन रहा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार उक्त भवन निर्माण की अनुमति ने नपा ने दी है। निर्माणकर्ता को अनुमति तीन मंजिल की ही दी गई है लेकिन मौके पर चार मंजिला व्यवसायिक भवन तान दिया गया है। इसे लेकर नपा ने कई बार निर्माणकर्ता को नोटिस भी दिए है लेकिन निर्माणकर्ता द्वारा नपा के सारे नोटिस रद्दी में डाल दिए। लेकिन नपा ने जिस तरह गांधी चौराहे के भवन पर द्वेषतापूर्ण ताबड़तोड़ कार्यवाही की है। उसके उलट चैनसुख पाटीदार के अवैध निर्माण पर नपा ने कोई कार्यवाही नोटिस के अलावा आज तक नहीं की है। अब देखना होगा सीएमओ मेडम आगे क्या करती है ?

घंटाघर का एमओएस उल्लघंन भी नहीं दिखा सीएमओं को

नगर के सबसे व्यस्तम क्षेत्र घंटाघर पर भी एक भवन का निर्माण किया जा रहा है जिस पर भी एमओएस का उल्लंघन किया गया है। लेकिन नपा के अधिकारी उस एमओएस उल्लघंन से संतुष्ट है क्योंकि सब शायद उससे आर्थिक लाभ ले चुके है। सबसे आश्चर्य की बात तो यह हैं कि उक्त भवन सदर बाजार के प्रारंभिक छोर पर बन रहा है जिससे उक्त व्यवसायिक भवन के कारण यातायात भी प्रभावित होगा लेकिन नपा ने यहां भी कोई कार्यवाही नहीं की है।

गुरूद्वारा रोड़ का भवन भी नहीं दिखा सीएमओ को

नपा सीएमओ जहां अपने को नियमों का पाठ पढ़ाने वाली बताती है वहीं उन्हें गांधी चौराहे पर महज 550 फीट में हुआ एमओएस का उल्लंघन तो दिखा लेकिन नगर के नई आबादी स्थित गुरूद्वारे रोड़ पर बन रहा बड़ा भवन नपा के अधिकारियों का नहीं दिख रखा है। यहां पर निर्माणकर्ता बेझिझक निर्माण कर रहे है। शायद इस निर्माण से भी नपा के अधिकारी संतुष्ट है।

 

पार्षदों के लिए दुकानदारी बन गए ऐसे भवन

नगर में इन दिनों कई स्थानोें पर बड़े भवन बन रहे है। लगभग हर भवन में किसी न किसी नियम का उल्लघंन किया गया हैं। कहीं पर एमओएस का उल्लंघन है तो कहीं पर परमिशन के उल्ट निर्माण किया जा रहा है। ऐसे में यह भवन नपा के कुछ पार्षदों के लिए एक अच्छी दुकानदारी बन गए है। ऐसे पार्षदों को यदि ऐसे निर्माणकर्ता सेट कर ले तो ठीक है नहीं तो यह पार्षद उक्त भवन की फाइल को परिषद की बैठकों में खोल देते है और उक्त निर्माणकर्ता को ब्लेकमैल करते है।

गुरूद्वारे रोड़ पर बना रहा भवन।

तिरूपति नगर में बन रहा भवन।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts