Breaking News

नगर पालिका को खुद के भवन की सुध नहीं और शहर को विकास के बडे बडे सपने दिखा रही नपा

मंदसौर। नगर पालिका अध्यक्ष इन दिनों विकास के नये नये सपने देख रहे है। किन्तु जिस परिसर में नपाध्यक्ष बडे बडे सपने संजो रहे है, वह परिसर ही खुद विकास की बांट जो रहा है। नगर पालिका भवन में कई जगह पर दिवार व छतों से प्लास्टर गिर रहा है। इसके साथ ही नपा परिसर में ही बने स्टेचू के आसपास की रेलिंग भी गिर गई है। आसपास की दीवारें क्षतिग्रस्त हो रही हैं। नपा में अपने काम करवाने और कॉम्पलेक्स की दुकानों के व्यवसायियों के वाहन भी स्टेचू के समीप ही पार्क होते हैं। स्टेचू के आसपास की जमीन भी भारी वाहनों के आने-जाने पर धंस रही है। ऐसे में यहां कभी बड़ा हादसा हो सकता है। अध्यक्ष व सीएमओ कार्यालय के सामने गलियारे की छत से मटेरियल गिर रहा है। स्टेचू की रेलिंग तीन माह पहले गिर चुकी है। याद दिलाया तो नपा अध्यक्ष कह रहे हैं कि स्टेचू के आसपास सुधार कार्य के लिए फाइल शुरू हो गई है। जल्द ही कार्य शुरू हो जाएगा। मंदसौर नगर पालिका का भवन वर्ष 2002 में बना था। 18 साल में ही भवन कई जगह से जर्जर हो गया है। आवक-जावक कक्ष के समीप के गलियारे की छत का प्लास्टर कुछ माह पहले गिर गया था। इसके साथ ही इसी गलियारे में दो-तीन अन्य जगह से भी छत का प्लास्टर गिरा था। इसके बाद नपा ने सुधार कार्य किया। लेकिन नपा अध्यक्ष व सीएमओ कक्ष के सामने सुविधाघर के बाहर गलियारे की छत से भी मटेरियल गिर रहा है, इसे अब तक नहीं सुधारा गया है। इसी बीच परिसर में ही बने स्टेचू के आसपास की रेलिंग टूट गई। अब स्टॉपर लगाकर सुरक्षा की जा रही है जबकि सुबह से शाम तक नगर पालिका कई लोग आते है। क्षतिग्रस्त हो रहे स्टेचू परिसर के समीप से वाहन निकलने के दौरान जमीन में कंपन हो रहा है। रेलिंग नहीं होने के कारण और आसपास के दीवारें क्षतिग्रस्त होने से कभी भी यहां हादसा हो सकता है।एक तरफ विकास कार्य के लिए लड़ रहे, दूसरी तरफ जर्जर नपा परिसरनगर पालिका भवन और परिसर की यह हालत तब है जब नपा अध्यक्ष विकास कार्यों के लिए लगातार प्रयास करने के साथ ही लड़ाई भी लड़ रहे हैं। कुछ दिन पहले महू-नीमच राजमार्ग की सड़क के डिवाइडर निर्माण के लिए बिना भूमिपूजन कार्य शुरू करवा दिया गया था। नपा उपाध्यक्ष की आपत्ति के बाद काम रुका। इसके बाद नपा अध्यक्ष ने कार्य शुरू होने की पूरी प्रक्रिया कब कैसे हुई यह विस्तार से बताया था। इसके साथ ही विगत दिनों नपा में आयोजित बैठक में वार्ड 5,11 और 12 के मध्य श्मशान घाट के पास से कांजी हाउस अलावदाखेड़ी नाले तक सीसी रोड निर्माण के कार्य के प्रस्ताव को कांग्रेस के सभी पार्षदों के विरोध के बाद बहुमत के आधार पर पारित किया गया था। एक तरफ विकास के लिए नपा अध्यक्ष प्रयास कर रहे हैं तो दूसरी तरफ नपा परिसर में ही जर्जर छत और दीवार व स्टेचू महीनों बाद भी सुधारा नहीं जा रहा है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts