Breaking News

नगर पालिका हुई जनप्रतिनिधि विहिन,सिर्फ अधिकारी चला रहें है नपा को – श्री नाहटा

स्वच्छता के नाम पर आमजन को परेशान करना बंद करें नपा

मंदसौर। स्वच्छता अभियान पूरे देश के साथ नगर में भी चलाया जा रहा है। जिसके अंतर्गत स्वच्छता बनाये रखने के लिये नपा द्वारा कई आयोजन किये जा रहे है और जमकर स्वच्छता के नाम पर फिजूल खर्च किया जा रहा है। यहॉ तो ठीक था लेकिन अब स्वच्छता के नाम पर नगर पालिका द्वारा गरीबों ओर आमजन को भी परेशान किया जाने लगा है।

उक्त बात कहते हुए युवा कांग्रेस के लोकसभा अध्यक्ष सोमिल नाहटा ने कहा कि गुरूवार को जो नपा के अमले ने स्वच्छता के नाम पर गाड़ौलिया लौहार समाज के लोगो को बेघर कर दिया वो अत्यंत निंदनीय व दुखद है। श्री नाहटा ने कहा कि नगर पालिका के जिम्मेदारों ने छोटे छोटे बच्चों की भी परवाह किये बगैर 10 से 15 परिवारों के सिर पर भारी ठंड में आशियाना छीन लिया स्वच्छता के नाम पर इस प्रकार गरीब को परेशान किया जाना बहुत गलत है।

श्री नाहटा ने कहा कि ऐसा लगता है कि आज नगर पालिका में कोई जनप्रतिनिधि बचा ही नहीं है सिर्फ अधिकारी ही नगर पालिका को चला रहें है। श्री नाहटा ने कहा कि जब यह अतिक्रमण हो रहा था उसी समय हटाना था आज दो वर्ष बाद सिर्फ स्वच्छता सर्वेक्षण के नाम पर इन्हंे इस तरह हटाना गलत है। श्री नाहटा ने कहा कि स्वच्छता दिखावें में ही धरातल पर होनी चाहिए सिर्फ स्वच्छता सर्वेक्षण की टीम आने के एक दिन पहले इस तरह गरीबों को बेघर कर देने से नपा का साबित करना चाहती है यह भी स्पष्ट होना चाहिए।

आज भाजपा की अध्यक्षता वाली नगर पालिका गरीब ठेले वालों का स्वच्छता के नाम पर 100 से 500 रू तक का चालान बना रही है। श्री नाहटा ने कहा कि समझा जा सकता है कि ठेले वाले दिन में 200 रू नहीं कमा पाता होगा वो कहां से इतना जुर्माना देगा। श्री नाहटा ने कहा कि सिर्फ स्वच्छता सर्वेक्षण में नम्बर एक आने की होड़ में गरीब मजबूर लोगों को भारी ठंड में बेघर करना का फैसला भाजपा के शासन में किया जा सकता है इतना कठोर व अमानवीय फैसला भाजपा के जनप्रतिनिधि ही कर सकते है।

श्री नाहटा ने कहा की नपा स्वच्छता के नाम पर आमजन को परेशान करना बंद कर दें अन्यथा युवा कांग्रेस के नेत्त्व में विशाल आंदोलन नपा के विरूद्ध किया जायेगा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts