Breaking News

नपाध्यक्ष पद पर श्री शेख का नाम तय, आज हो सकती है आधिकारिक घोषणा

नये सीएमओं भी आ ही गए

मंदसौर। नपाध्यक्ष पद पर कांग्रेस पार्षद हनीफ शेख के नाम पर आखिरकार सहमति हो ही गई। बुधवार को भोपाल में कांग्रेस के लगभग 12 पार्षदों ने मुख्यमंत्री कमलनाथ स्थानीय प्रशासन मंत्री राज्यवर्द्धन सिंह एवं कांग्रेस नेता राजीव सिंह से मुलाकात कर श्री शेख के नाम पर अपनी सहमति देते हुए नपाध्यक्ष पद पर श्री शेख को मनोनित करने का अनुरोध किया था।

बताया जाता हैं कि नपा परिषद में कांग्रेस के 17 पार्षदों में से लगभग 12 पार्षदों की भावनानुसार राज्य शासन ने नपाध्यक्ष पद पर श्री हनीफ शेख को मनोनित करने का निर्णय लिया है। हालांकि बु धवार देर शाम तक शासन ने विधिवत आदेश जारी नहीं किया था। लेकिन संभावना है कि गुरूवार को श्री शेख के नाम कि आधिकारिक घोषणा हो जाएगी।

वैसे भी जिला कांग्रेस अध्यक्ष प्रकाश रातडि़या ने एक पखवाडा पूर्व ही श्री शेख के नाम पर अनुशंसा कर दी थी। लेकिन कांग्रेस के अन्य दावेदारों की सक्रियता से मामला टलता गया और आखिरकार कांग्रेस के आधे से अधिक पार्षदों की सहमति के चलते शासन को भी श्री शेख के नाम पर सहमत होना पड़ा। श्री शेख नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार के स्थान पर अध्यक्ष मनोनित होगे। स्मरण रहें कि 17 जनवरी 19 को श्री बंधवार की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। जब से नपा का अध्यक्ष पद खाली ही था।

वहीं मुख्य नपाधिकारी के पद पर सागर से स्थानानतरित होकर आए आर पी मिश्रा ने पदभार ग्रहण कर लिया है। आप श्रीमती प्रधान के स्थान पर आए है जिनका खण्डवा नगर निगम में स्थानानतरण हुआ था यह पद भी लगभग 8 से 10 दिनों से रिक्त था। सीएमओं के अभाव में अस्थाई कर्मचारियों को भी वेतन नहीं मिल सका था। अध्यक्ष के मनोनयन एवं सीएमओं के आने से नपा का संचालन पूर्ववत होने की संभावना व्यक्त कि जा रही है। हालांकि नगर पालिका परिषद पर भाजपा का बहुमत है लेकिन अध्यक्ष कांग्रेस का मनोनित होगा। लगभग 30 वर्षो बाद नपाध्यक्ष पद पर कांग्रेस को बैठने का अवसर मिलेगा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts