Breaking News

नये एक्ट के तहत प्याज व्यापारी पर हुई कार्रवाई : व्यापा:रियो ने नहीं की नीलामी

व्यापारियों ने नहीं लिया प्याज निलामी में हिस्सा, गुस्साए किसानों ने किया चक्काजाम

मंदसौर। लगातार बढ़ती प्याज की कीमतों को देखते हुए मप्र शासन ने नया एक्ट बनाकर व्यापारियों के लिए प्याज स्टॉक करने की सीमा तय कर दी थी। जिसके तहत खाद्य आपूर्ति विभाग ने मंगलवार को मंडी में कार्रवाई करते हुए एक प्याज व्यापारी के यहां से सीमा से अधिक प्याज पाया जाने पर 81 क्विंटल प्याज को जब्त किया था। जिसके बाद बुधवार को गुस्साए व्यापारियों ने प्याज की निलामी में हिस्सा नहीं लिया। प्याज की मंडी चालू नहीं होने पर गुस्साएं व्यापारियों ने मंडी के बाहर चक्काजाम कर दिया। जिसे वायडी नगर पुलिस ने पहंुचकर खुलवाया।

प्याज की आफत कम होने का नाम नहीं ले रही। बुधवार को प्याज के चक्कर में व्यापारी, किसान, जिला और पुलिस प्रशासन चारों परेशान हो गए। मंगलवार की कार्रवाई के बाद जब गुरूवार को सुबह प्याज मंडी चालू नहीं हुई तो किसानों ने इसकी जानकारी मंडी सचिव हो दी। कुछ ही देर में एसडीएम अंकिता प्रजापति भी मंडी पहंुच गई और व्यापारियों से मंडी चालू करने को कहा। लेकिन व्यापारियों ने स्पष्ट मना कर दिया। बाद में मंडी व्यापारी समिति सदस्यों ने कलेक्टर से मिलने की बात मानी और मंडी व्यापारियों का एक दल, पूर्व मंडी अध्यक्ष बंशीलाल गुर्जर और एसडीएम के साथ कलेक्टर मनोज पुष्प से मिला और कलेक्टर से चर्चा की।

मुलाकात के दौरान व्यापारियों ने कलेक्टर श्री पुष्प को बताया कि मंगलवार को प्रशासन द्वारा कि गई कार्रवाई गलत है व्यापारियों द्वारा प्याज का स्टॉक नहीं किया जा रहा है माल लेकर तुरंत गाड़ी भरकर अयन्त्र भेज दिया जाता है। पूर्व मंडी अध्यक्ष श्री गुर्जर ने भी कार्रवाई का विरोध दर्ज करवाया।

कलेक्टर श्री पुष्प ने भी व्यापारियों से कहा कि शासन की मंशा व्यापारियों को परेशान करने की बिल्कुल नहीं है। कलेक्टर से चर्चा के बाद मंडी व्यापारी माने और दोपहर 1.30 बजे मंडी प्रारंभ हो पाई।

उधर मंडी चालू नहीं होने से गुस्साए किसानो ने मंडी के बाहर चक्काजाम कर दिया। जिसे वायडी नगर थाना प्रभारी एस एल बौरासी ने पुलिस बल के साथ पहंुचकर किसानों को समझाकर चक्काजाम खुलवाया और दोपहर 2 बजे मंडी में प्याज की निलामी प्रारंभ हो पाई।

प्रशासन की कार्रवाई गलत थी

मंगलवार को प्रशासन द्वारा नये एक्ट के तहत की गई कार्रवाई गलत थी जिसका विरोध मंडी व्यापारियों ने दर्ज करवाया और उसी करे लेकर कलेक्टर साहब से चर्चा भी की गई उन्होने आश्वस्त किया है कि अब कोई कार्रवाई नहीं होगी। – राजेन्द्र नाहर, अध्यक्ष, मंडी व्यापारी संघ, मंदसौर

मंडी चालू करवा दी गई है

नये एक्ट के तहत हुए कार्रवाई का विरोध मंडी व्यापारी कर रहे थे। उन्हें समझा दिया गया है और मंडी भी प्रारंभ करवा दी गई है। – मनोज पुष्प, कलेक्टर, मंदसौर

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply