Breaking News

पं दीनदयाल उपाध्याय की जयंति पर भाजपा संगठन की गुटबाजी आई सामने

मंडल बने थे जोड़ने के लिये लेकिन बंटती दिखी भाजपा

मंदसौर निप्र। सोमवार को भाजपा के पितृ पुरूष पं दीनदयाल जी उपाध्याय की 101 वी जयंति भाजपा द्वारा पूरे देश भर में मनाई गई। पं उपाध्याय की जयंति पर देश के साथ पूरे प्रदेश में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित कर भाजपाईयों द्वारा पं उपाध्याय को याद किया गया।
इसी अवसर पर सोमवार को मंदसौर में भी भाजपा के दोनो मंडल दक्षिण और उत्तर ने अलग अलग अपने पितृपुरूष पं उपाध्याय की जयंति बनाई गई। उल्लेखनीय है कि प्रतिवर्ष भाजपा के मुख्य संगठन द्वारा नगर के दशपुर कुंज में एकजुट होकर पं उपाध्याय की जयंति मनाई जाती थी। लेकिन इस वर्ष भाजपा के दोनों मंडलों ने अलग अलग पं उपाध्याय की जयंति मनाई जिसमें भाजपा की गुटबाजी साफ देखने को मिली। गुटबाजी इतनी हावी रही कि दोनों ही नगर मंडलों ने एक ही समय याने सुबह 10 बजे कार्यक्रम का समय निर्धारित किया ताकि कोई मंडल सदस्य इधर उधर न हो सकें।
उत्तर मंडल द्वारा पं उपाध्याय जयंति का कार्यक्रम दशपुर कुंज में आयोजित किया गया। जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार को बुलाया गया था लेकिन नपाध्यक्ष के बौद्धिक के बावजूद भी पूरे कार्यक्रम में सिर्फ एक ही पार्षद दीपीका निलेश जैन उपस्थित थी। जबकि मंडल के पार्षदों की संख्या दहाई मेें है। वहीं वार्ड कं 40 से निर्दलीय पार्षद चुने गये अनिल मालवीय भी कार्यक्रम में उपस्थित थे और आश्चर्य की बात यह रही कि भाजपा मंडल के कार्यक्रम में भाजपा के बागी पार्षद ने ही आभार माना।
वहीं दूसरी ओर दक्षिण मंडल का कार्यक्रम जिला भाजपा कार्यालय पर आयोजित किया गया। जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में जिलाध्यक्ष देवीलाल धाकड़ उपस्थित हुए। वहीं इस आयोजन में लगभग भाजपा के 11 पार्षद और तीन एल्डरमेन उपस्थित थे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts