Breaking News

पति के दूसरी शादी करने पर पहली पत्नी ने किया, पति को सबके सामने बेनकाब!

मंदसौर। सीतामऊ फाटक क्षेत्र में गुरुवार को एक होटल में शादी के बाद दूल्हा-दुल्हन की विदाई से पहले जमकर हंगामा हुआ। दरअसल, विदाई की रस्म के दौरान एक महिला अपने परिजनों के साथ वहां पहुंची। उसने कहा कि दूल्हा मेरा पति है और 12 साल पहले हमारी शादी हुई थी, दो बच्चे भी हैं। हमारा विवाद कोर्ट में चल रहा है, तलाक भी नहीं हुआ उससे पहले पति दूसरी शादी कैसे कर सकता है।

 

इस घटनाक्रम के दौरान पूरा दृश्य ही बदल गया। सड़क पर महिला अपने पति की दूसरी शादी का विरोध जताते हुए चिखती रही। उसने ससुराल पर परेशान करने के आरोप भी लगाते हुए कहा कि 8 माह पहले पति ने घर से निकाल दिया था। महिला ने दूल्हा- दुल्हन की गाड़ी को रोकने की कोशिश की लेकिन वह नहीं रुकी। इसके बाद वह भी पीछे-पीछे अन्य वाहन से चली गई।

 

जानकारी अनुसार गुरुवार को सीतामऊ फाटक क्षेत्र स्थित एक होटल में जावरा निवासी मुस्तकीम उर्फ शानू पटेल का निकाह मंदसौर की ही एक युवती से हुआ। जिसके बाद विदाई के लिए पूरा परिवार होटल से बाहर आ चुका था। तभी आलोट निवासी महिला फिरदोस उर्फ बीना अपने दादा इकबाल हुसैन, चाचा शाकिर हुसैन एवं भाई जावेद इमरान कुरेशी के साथ यहां पहुंची।

उसने शादी का विरोध करते हुए कहा कि मुस्तकीम उसका पति है और उसका तलाक भी नहीं हुआ है। करीब आधे घंटे तक हंगामा चलता रहा। इस दौरान यहां लोगों की भीड़ जमा हो गई। कु छ देर बाद दूल्हा-दुल्हन कार में बैठकर चले गए।

 

इस दौरान महिला फिरदोस उर्फ बीना ने बताया कि 23 अप्रेल 2006 को जावरा निवासी मुस्तकीम उर्फ शानू पटेल से उसका निकाह हुआ था। उसे मुस्तकीम से दो बेटे अरमान 10 एवं हर्ष 7 है। 14 नवम्बर 2017 को पति व ससुराल वालों ने मुझे घर से निकाल दिया।

बच्चों को पति ने ही रख लिए। 4 माह पहले मैंने दहेज प्रताड़ना का के स लगाया था। यह मामला न्यायालय में चल रहा है। पति व सास-ससुर तलाक के लिए दबाव बना रहे है, पर मैं तलाक नहीं चाहती हूं। मुझ पर चरित्र शंका के आरोप लगाने की भी धमकी दी जा रही है। मैं चुप नहीं बैठूंगी । इंसाफ और मेरे बेटों को पाने के लिए लड़ूंगी। महिला ने बताया कि गुरुवार को उसे पति की दूसरी शादी की जानकारी मिली। वह परिजनों के साथ मंदसौर पहुंची तब तक पति का निकाह हो चुका था।

मेरे परिजनों ने बहुत समझाया पर वे नहीं मान रहे

महिला फिरदोस उर्फ बीना ने बताया कि शादी के 6 माह बाद से ही ससुराल वाले मुझे परेशान कर रहे है। 14 नवम्बर को मुझे घर से निकाल दिया। तब से ही बच्चों के लिए तड़फ रही हूं। 4 माह पहले मैंने केस लगाया। 28 जुलाई को तारिख थी लेकि न पति व ससुरालवाले कोर्ट में नहीं आ रहे। वे बार-बार वकील पत्र लगा देते है। मेरे परिवारवालों ने कई बार पति मुस्तकीम को समझाने की कोशिश की लेकिन वे नहीं मान रहे। मेरा तलाक नहीं हुआ है तो फिर पति ने दूसरी शादी कैसे कर ली। मैं इस मामले में भी केस लगाऊंगी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts