Breaking News

पत्नि को अपनी बीवी देवर के साथ आपत्तिजनक हाल में मिलेगी

सीतामऊ। दस दिन पहले ग्राम महुवी के सूखे कुएं में मिली आत्माराम सूर्यवंशी निवासी ईशाकपुर की लाश के मामले में पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पत्नी से अवैध संबंधों के चलते छोटे भाई ने ही अपने साथियों के साथ मिलकर आत्माराम की हत्या कर दी थी।

हत्या के पहले भाई के साथ शराब पी और फिर कुल्हाड़ी से गर्दन काटकर शव महुवी के पास शासकीय स्कूल के सूखे कुएं में फेंक दिया था। आरोपी भाई को यह भी डर था कि आत्माराम उसकी हत्या कर सकता है।

रविवार को सीतामऊ थाने पर एसपी मनोजकुमार सिंह ने बताया कि पहले आरोपियों ने गुमराह करने की कोशिश की। अलग-अलग पूछताछ में आरोपी टूट गए और गुनाह कबूल लिया।

आरोपियों से मृतक के कपड़े एवं मोबाइल बरामद किया है। 23 जून को ग्राम महुवी के शासकीय प्रावि के समीप सुखे कुएं में आत्माराम पिता गंगाराम सूर्यवंशी (35) निवासी ईशाकपुर की लाश मिली थी। मृतक की गर्दन पर कुल्हाड़ी के वार के निशान थे।

पुलिस ने मामले में आरोपियों तक पहुंचने के लिए जानकारी जुटाई। तब सामने आया कि मृतक आत्माराम के अपने छोटे भाई राधेश्याम की पत्नी से संबंध थे। इन अवैध संबंधों की जानकारी उसके भाई राधेश्याम को लग गई थी। इसी आधार पर पुलिस ने जांच की तो पूरे मामले में खुलासा हो गया।

भाई के साथ देख लिया था पत्नी को

आत्माराम की पत्नी उसे छोड़कर चली गई थी। छोटा भाई राधेश्याम उदयपुर में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करता था। इस दौरान राधेश्याम की पत्नी से आत्माराम के अवैध संबंध हो गए थे। 15 दिन पहले राधेश्याम अपने गांव आया था। तक उसने आत्माराम को पत्नी के संग आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था। दोनों भाइयों के बीच विवाद हुआ तो आत्माराम ने राधेश्याम को जान से खत्म करने की धमकी दी। इस कारण राधेश्याम को डर बैठ गया था कि उसका भाई उसकी हत्या कर सकता है।

ठेका दिलाने के बहाने बुलाया और कर दी हत्या

पत्नी के अवैध संबंधों से खफा राधेश्याम ने बड़े भाई की हत्या करने के लिए अपने दोस्तों राजेश पिता रामेश्वर प्रजापत (21) व मुकेश पिता प्रभुलाल बलाई (20) दोनों निवासी पतलासी के साथ मिलकर योजना बनाई। तीनों ने 22 जून की रात में मृतक को मकान का ठेका दिलाने का बहाना बनाकर सीतामऊ बस स्टैंड बुलाया।

तितरोद से शराब खरीदी और ग्राम महुवी शासकीय स्कूल परिसर में बैठकर शराब पी। इसी दौरान तीनों ने मिलकर कुल्हाड़ी से हमला कर आत्माराम की हत्या कर शव को समीप के सूखे कुएं में फेंक दिया। आरोपी उसकी गर्दन काटकर ले जाना चाहते थे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ तो उसके कपड़े व मोबाइल ले गए।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts

Leave a Reply