Breaking News

पत्रकारो के साथ लगातार होती घटनाये लेकिन सरकार पत्रकार प्रोटेक्शन एक्ट पर चुप- श्री भाटी

मंदसौर। पिछले कुछ समय से संपूर्ण मध्यप्रदेश में पत्रकारो के साथ न हिंसक घटनाये लगाातर बढ रही है। पिछले दिनों उज्जैन में पत्रकार साथी को अपराधिक तत्वो द्वारा बुरी तरह मारपीट कर घायल कर दिया गया। इससे पूर्व मंदसौर जिले में पत्रकार कमलेश जैन हत्याकांड सहित पुरे प्रदेश में हर जिले का अतित पत्रकारो के साथ हिंसक घटनाओं से भरा पडा है लेकिन उसके बावजुद मध्यप्रदेश सरकार द्वारा लोकतंत्र के चौथे स्तंभ के लिये पत्रकार प्रोटेक्शन एक्ट के लिये अब तक समुची तैयारी नही कर सकी है जो चिंता का विषय है।

जिला कांग्र्रेस मिडीया प्रभारी एवं पत्रकार सुरेश भाटी ने शिवराजसिंह चौहान सरकार के अंतिम पडाव आने के बावजुद पत्रकार प्रोटेक्शन एक्ट मामले में प्रभावी कदम नही उठाये जाने को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। लगातार विरोध के चलते अभिभाषको के लिसे सरकार अधिनियम लाने पर राजी हुई लेकिन मिडीया के माध्यम से अपनी छवि बनाने वाली सरकार ने अब तक पत्रकार जगत की सुध नही ली है। झाबुआ में राज्यपाल महोदय के आगमन के दौरान पुलिस द्वारा पत्रकारो के साथ अभद्रता की घटनाये भी सरकार के नुमाइंदो की शह पर की गयी उससे भी स्थानीय झाबुआ का पत्रकार जगत अचंभित और आक्रोशित है।

श्री भाटी ने पिछले दिनों उज्जैन में पत्रकार साथी के साथ मारपीट के अलावा छत्तीसगढ के सरगुजा में सांसद पुत्र द्वारा पत्रकार के माता-पिता के साथ मारपीट घटनाओ का जिक्र करते हुये कहा कि अब समय आ गया है कि पत्रकार संगठनो द्वारा लगातार की जा रही पत्रकार प्रोटेक्शन एक्ट की मांग को सरकार स्वीकार करते हुये महाराष्ट्र सरकार की तर्ज पर आगामी सत्र में लेकर आये। श्री भाटी ने इस मामले में सभी पत्रकार संगठनो को संगठित रूप से लडने की अपील की है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts