Breaking News

पशुपतिनाथ मंदिर के प्रवेश द्वार पर बंद पड़ी है बैग स्केनर मशीन एवं मेटल डिटेक्टर

मंदसौर। विश्व प्रसिद्ध अष्टमुखी भगवान पशुपतिनाथ मंदिर पर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर अभी तैयारी अधूरी ही है। मंदिर के प्रवेश द्वार पर लगा मेटल डिटेक्टर महाशिवरात्रि के तीन दिन पहले तक भी बंद मिला। इसके अलावा बैग स्केनर मशीन महीनों से बंद है। मंदिर पर आने वाला हर शख्स बिना जांच के ही गर्भगृह तक पहुंच रहा है। शुक्रवार दोपहर मंदिर परिसर में सुरक्षा के नाम पर गर्भगृह के समीप एक पुलिस जवान और दो सिक्युरिटी गार्ड के अलावा कोई नहीं था। प्रवेश और निर्गम द्वार पर सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं थे। ऐसे में अधूरी तैयारियों के बीच महाशिवरात्रि पर सुरक्षा कैसे होगी। इसी बीच शुक्रवार दोपहर कलेक्टर व एसपी ने भी पशुपतिनाथ मंदिर का निरीक्षण किया। तैयारियों के संबंध में जानकारी ली, सीसीटीवी कैमरे के फुटेज देखने के लिए कंट्रोल भी पहुंचे। इसके अलावा यहां चल रहे मंदिर निर्माण कार्य का भी निरीक्षण किया गया।

महाशिवरात्रि पर्व चार मार्च को है। इसे लेकर श्री अष्टमुखी पशुपतिनाथ मंदिर पर तैयारी चल रही है। इस साल सोमवार को महाशिवरात्रि होने से एक लाख से अधिक श्रद्धालुओं के पशुपतिनाथ मंदिर पर दर्शन के लिए आने का अनुमान है। सुरक्षा व्यवस्था एवं तैयारियों का जायजा लेने के लिए शुक्रवार दोपहर कलेक्टर धनराजू एस एवं पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल पशुपतिनाथ मंदिर पहुंचे। श्रद्धालुओं के प्रवेश एवं निर्गम द्वार को देखा। मंदिर प्रबंधक राहुल रुनवाल ने तैयारियों की जानकारी दी। कलेक्टर ने सीसीटीवी कैमरों के संबंध में पूछा कि सभी कैमरे चल रहे हैं या नहीं। अधिकारियों ने बताया कि परिसर में 60 कैमरे लगे हैं और सभी चल रहे हैं। बाद में कलेक्टर-एसपी ने कंट्रोल रूम पहुंचकर सभी स्क्रीन पर कैमरों का रिकॉर्ड देखा। प्रवेश द्वार पर सुरक्षा व्यवस्था के लिए पुलिस जवान भी तैनात नहीं है। निरीक्षण के दौरान एसपी विवेक अग्रवाल ने मेटल डिटेक्टर मशीन को देख एसपी विवेक अग्रवाल ने जानकारी ली तो तब अधिकारियों ने बताया कि मेटल डिटेक्टर बंद है, इसे सुधारने के निर्देश दिए। इसके अलावा बैग स्केनर मशीन के संबंध में भी जानकारी। बैग स्केनर चालू है। इसके बावजूद महीनों से धूल खा रही है। मंदिर प्रबंध समिति दो दिन में मेटल डिटेक्टर को ठीक नहीं करवाएगी तो पुलिस यहां पर मेटल डिटेक्टर लगाएगी।

 

गर्भगृह तक बैग लेकर पहुंच रहे लोग

भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक के बाद एक बार फिर भगवान श्री पशुपतिनाथ मंदिर पर अलर्ट जारी किया गया है, लेकिन मंदिर पर सुरक्षा व्यवस्था अभी भी पूरी तरह से मुस्तैद नहीं है। महाशिवरात्रि पर्व नजदीक होने तथा सुरक्षा को लेकर अलर्ट जारी होने के बावजूद मंदिर पर प्रवेश और निर्गम द्वार पर एक भी जवान तैनात नहीं है। मेटल डिटेक्टर एवं बैग स्केनर मशीने बंद होने के कारण मंदिर आने वाले लोग बैग लेकर गर्भगृह तक पहुंच रहे है, मंदिर की सुरक्षा को लेकर यह बड़ी चूक है।

 

स्तनपान कक्ष भी महीनों से बंद

महिलाओं को सार्वजनिक स्थान पर बच्चों को स्तनपान कराने में दिक्कत न हो, इसके लिए पशुपतिनाथ मंदिर पर भी स्तनपान कक्ष बनाया गया। प्रवेश द्वार पर बने इस कक्ष का प्रचार-प्रसार नहीं होने एवं कक्ष के अंदर अव्यवस्था होने के कारण उसका उपयोग नहीं हो पा रहा है। हालात यह है कि कक्ष के भीतर सफाई तक नहीं हो रही है।

महाशिवरात्रि पर्व पर सुविधा और सुरक्षा को देखते हुए पशुपतिनाथ मंदिर पर निरीक्षण किया है। सुविधापूर्ण तरीके से श्रद्धालुओं दर्शन हो सके ऐसी व्यवस्था की जा रही है। पूरे परिसर में सीसीटीवी कैमरे लगे हुए है सभी कैमरे चल रहे हैं। पार्किंग की व्यवस्था भी की जाएगी। पर्याप्त पुलिस बल मंदिर पर तैनात किया जाएगा। मंदिर के प्रवेश द्वार मेटल डिटेक्टर बंद मिला है, इसे सुधारने के लिए कहा है। बैग स्केनर मशीन चालू है, इसे लगातार चलाया जाएगा। -विवेक अग्रवाल, एसपी, मंदसौर

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts