Breaking News

पार्षदों को झगड़वाने के बजाये अवैध कॉलोनियों के विकास के लिये राशी लाते कांग्रेस नेता!

मन्दसौर। नगरपालिका अध्यक्ष प्रहलाद बंधवार की हत्या को एक माह 10 दिन हो गये। कांग्रेस अभी तक कार्यवाहक अध्यक्ष भी नहीं बना पा रही है। पूर्व विधायक पाटील और पूर्व मंत्री नरेन्द्र नाहटा पार्षदों के झमेले को लेकर दिल्ली भोपाल एक कर रहे है। बेहतर होता नगर की अविकसित कॉलोनियों के विकास के लिये राशी लाने में इतनी मेहनत करते तो जनता को राहत मिलती। उपरोक्त आरोप लगाते हुए, इन्द्रा कॉलोनी मोहल्ला समिति के अध्यक्ष रणजीतसिंह, कालुसिंह, शकुर खां, असलम मेवाती व समाजसेवी राधाकिशन ने बताया कि विधानसभा चुनाव के समय शिवराज चौहान ने सभी अविकसित कॉलोनी को विकसित करने की घोषणा की थी, आचार संहिता के कारण राशि नहीं मिली। असलम मेवाती ने पूर्व विधायक पाटील व नरेन्द्र नाहटा से आग्रह किया कि वे नगरपालिका अध्यक्ष को लेकर लड़ाने भिड़ाने के लिये बार-बार दिल्ली भोपाल एक कर रहे है, इन्हें जनता की सुध लेना चाहिये एवं अवैध कॉलोनियों के विकास के लिये कम से कम 20 करोड़ रूपये लाते तो अवैध कॉलोनी की 50 हजार जनता लाभान्वित होती व नारकीय जीवन से मुक्ति मिलती।

शकुर खां ने बताया कि जावरा जैसी छोटी सी नगरपालिका ने अवैध कॉलोनी के विकास के लिये 10 करोड़ की बड़ी राशि शासन से मंजूर करवाकर ले आये और हमारे नेता आपसी खीचतान, गुटबाजी और पार्षदों को झगड़ाने में लग रहे है। इन्हें अपने शासन से राशि की मांग करनी चाहिये, प्रभारी मंत्री का दो बार दौरा हो गया पर नेता मांगे नहीं कर सके। सभी लोगों ने व्यथीत होकर कहा कि काग्रेस के नेताओं को अब लड़ने, भीड़ने, गुटबाजी करने व स्वार्थ की राजनीति को छोड़कर जमीन पर काम करे, जनता के बीच जाये, विकास के लिये अधिक से अधिक राशी लेकर आये व जनता के काम करे। नहीं तो अभी तो एक विधानसभा सीट आ भी गई है। कहीं लोकसभा में इन नेताओं की लड़ाई का खामियाजा नहीं भुगतना पड़ जाये।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts