Breaking News

पुलिस बना रही है महिलाओं को आत्मनिर्भर

छात्राओं को बताया गया कि कही पर भी आते-जाते समय उनके साथ छेड़खानी या अन्य कोई घटना न हो इस हेतु वे हमेशा जागरूक रहे। असामाजिक तत्वो के द्वारा कोई घटना घटित की जाती है अथवा छेड़छाड़ करने का प्रयास करते है तो आप अपने परिवार में माता-पिता, भाई बहन तथा स्कूल के अध्यापिका को जरूर बताये। आपके द्वारा नहीं बताने पर छोटी से छोटी घटनाए आगे चलकर बहुत बड़ी घटना का रूप ले लेती हैै और गंभीर घटना घटित हो सकती है। इसलिये तत्काल पुलिस में रिपोर्ट करना चाहिए। अगर कोई छेड़खानी करता है तो बहुत जोर से चिल्लाये ताकि आपकी आवाज सुनकर आसपास के लोग एकत्रित हो जाये ओर आपकी मदद कर सके। अपराधो को दबाने या छुपाने से असामाजिक तत्वो के होसले बुलंद होने से गंभीर अपराध घटित हो सकता हैं। अपने आप में आत्मविश्वास के साथ असामाजिक तत्वो का प्रतिकार करे एवं आप अपनी शक्ति को पहचाने। पुलिस सदैव आपकी मदद के लिये तत्पर है तथा आप अपनी मदद के लिए डायल 100 एवं भ्रमण करने वाली निर्भया मोबाईल फोन नम्बर 07422-242424/ 220500/220178 तथा महिला हेल्प लाईन 1090 पर भी सूचना दे सकते है। आपके द्वारा दी गई सूचना पर पुलिस द्वारा तत्काल कार्यवाही की जाएगी एवं आपकी रिपोर्ट को सार्वजनिक नहीं किया जावेगा । महिला अपराध प्रकोष्ठ मन्दसौर के द्वारा सुप्रभात मिशन, कानूनी प्रावधान मानव दुव्र्यापार, से संबंधित पर्चे, सउनि. रमेश खण्डेलवाल व आर. कमलेषसिंह भदौरिया के द्वारा छात्राओं को बाटे गये।
इसी प्रकार आज दिनांक 23.04.17 को श्रीमती संध्या राय, नगर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण मन्दसौर द्वारा शासकीय कन्या महाविद्यालय मन्दसौर मे छात्राओ को कानून की जानकारी, अपराध से जागरूकता के संबंध मे बताया गया । डायल 100, परिवार परामर्ष केन्द्र के संचालन के संबंध मे भी विस्तृत जानकारी दी गई । जिले मे चल रही निर्भया मोबाईल के संबंध मे भी सभी को अवगत कराया ।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts