Breaking News

पेट्रोल डीजल के भावों को लेकर ग्राहक पंचायत ने सौंपा ज्ञापन

पेट्रोल अब तक के सर्वोच्च स्तर पर, अब तो लोग कहने लगे ज्यादा हो गया

ग्राहक पंचायत ने सौंपा ज्ञापन, युवा कांग्रेस आज करेगी विरोध प्रदर्शन

मंदसौर। महंगाई इन दिनों दिनो दिन बढ़ती जा रही है। जिसमें पेट्रोल के भाव ने तो लोगों की कमर ही तोड़ दी है। कर्नाटक चुनाव के बाद से तो पेट्रोल के भाव रोज बढ़ रहे है। अब तो भाव अब तक के सर्वोच्च स्तर पर पुहंच गया है। मंदसौर में पेट्रोल के भाव मंगलवार को 82.95 रूपये हो गया। यह अब तक का सर्वाधिक भाव है। वही डिजल 72.11 रूपये प्रति लीटर रहा। हालांकि सर्वाधिक रेट का एक कारण यह भी है कि प्रदेश सरकार द्वारा पेट्रोल डीजल पर ज्यादा टैक्स लिया जाता है।

कलेक्शन एजेन्ट राहुल तलेरा ने बताया कि बढ़ते पेट्रोल के भावों ने कमर तोड़ दी है। सैलरी तो नहीं बढ़ रही है लेकिन महंगाई दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। पेट्रोल के भाव ने बजट बिगाढ़ दिया है पहले जहॉ 100 रू के पेट्रोल में पूरा शहर घूम लेता था लेकिन अब 140 से 150 रूपये खर्च करना पड़ रहे है।

पंकज श्रीवास्तव ने बताया कि बढ़ते पेट्रेाल के भावों से आम आदमी को परेशान हो चुका है ऐसा ही चलता रहा तो पेट्रोल बहुत जल्द 100 रूपये हो जाएगा।
फिल्टर वाटर प्लांट के संचालक गौरांग गोड़ ने बताया कि डिजल के बढते भावों से पानी कैने डोर टू डोर सप्लाई करना महंगा सौदा होता जा रहा है। काम्पीटिशन का जमाना है पानी के रेट भी नहीं बढ़ा सकते है ऐसे में तो हमको दोनों तरफ नुकसान ही है।

युवा मनोज दशलानियॉ ने बताया कि सरकार पेट्रेाल के दामों को कम करना तो दूर उसे नियंत्रण भी नहीं कर पा रही है। यह आने वाले चुनाव में भाजपा के नुकसानदेय हो सकता है।

गर्मी में उड़ जाता है पेट्रोल
एक तरफ पेट्रोल के भाव लगातार बढ़ रहे है वहीं भीषण गर्मी होने के कारण गाड़ीयों से पेट्रोल उड़ता भी है। ऐसे में ग्राहकों को दोहरा नुकसान उठना पड़ रहा है।

मंगलवार को अखील भारतीय ग्राहक पंचायत मंदसौर इकाई द्वारा पेट्रोल/डीजल की मूल्यवृद्धि के खिलाफ प्रधानमंत्री के नाम एक ज्ञापन जिला अतिरिक्त कलेक्टर अनुकूल जैन को दिया और मांग की गई कि पेट्रोल/डीजल को जल्द ही जीएसटी के दायरे में लाकर मूल्यवृद्धि को रोकी जाए।

ग्राहक पंचायत के जिला संयोजक मिथुन वप्ता ने बताया कि पेट्रोल/डीजल की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि होती जा रही है। कीमते कम होना तो दूर इनके दामो में रोजाना बढ़ोत्तरी ही होती जा रही है। जिस कारण आम ग्राहकों के जेब पर अतिरिक्त भार पड़ता जा रहा है। पेट्रोल और डीजल की बढ़ती हुई कीमत का सीधा असर महंगाई पर भी पड़ रहा है। जिससे माल ढुलाई, भाड़ा, ट्रांसपोर्टिंग भी बढ़ जाने की संभावना बनी हुई है। सरकार को जल्द से जल्द पेट्रोल -डीजल के दाम कम कर कीमत स्थिर करना चाहिए। अन्यथा ग्राहक पंचायत पूरे भारत मे तीव्र विरोध प्रदर्शन करेगी जिसकी जिम्मेदारी सरकार की रहेगी।

ज्ञापन का वाचन जिला प्रचार प्रमुख नवनीत शर्मा ने किया। इस अवसर पर ग्राहक पंचायत के जिला सचिव पीयूष जैन, जिला सहसचिव विजय कोठारी, जिला कार्यालय मंत्री शेलेन्द्र चौहान, नवनीत शर्मा, नगर संयोजक आशीष भाटिया आदि उपस्थित थे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts