Breaking News

पेट्रोल पंप किसी को भी बोटल में पेट्रोल, डिजल न दे – कमिश्नर व आईजी ने दिये निर्देश

किसान आंदोलन की समीक्षा को लेकर बैठक सम्पन्न

मंदसौर। संभाग आयुक्त एम.बी. ओझा एवं आईजी राकेश गुप्ता ने किसान आंदोलन को लेकर पुलिस कन्ट्रोल रूम में समीक्षा बैठक ली। इस बैठक में डीआईजी जितेन्द्र सिंह , डिप्टी् कमिश्नर श्री सोनवलकर, कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तबव, एसपी मनोज कुमार सिंह, एएसपी, संयुक्त कलेक्टर मंदसौर एसडीएम सभी थाना प्रभारी सहित सभी जिलाधिकारी मौजूद थे।

बैठक में कमिश्नर एवं आईजी ने निर्देश देते हुए कहा कि सभी पेट्रोल पंपो को सूचित कर दे कि वह किसी को भी पेट्रोल एवं डीजल बोतलो में भर के न दे। साथ ही कितने लोग पेट्रोल पंपो से कितनी मात्रा में पेट्रोल व डिजल भरवा रहे है इसकी भी सूची बनाकर पुलिस को दे। आगामी दिनो में थाना प्रभारी पेट्रोल पम्पो के मालिकों के साथ मिलकर बैठक आयोजित कर उनको सूचना एवं आदेश के बारे में निर्देशित करे। उन्होने पहले जिन लोगो ने दूध एवं सब्जी के ठेले को नुकसान पहुंचाया उन पर मुकदमें दर्ज हुए या नहीं इसकी जानकारी ली।

उन्होंने कहा कि कम्यूनिकेशन बराबर बना कर रखे तथा गांव तक सम्पर्क के माध्यम अच्छे हो। अगर कम्यूनिकेशन सिस्टम अच्छा होता है तो मेसेज बहुत आसानी से पहुच जाते है तथा सुरक्षा व्यवस्था के कडे इन्तेजाम हो सकते है। पुलिस फोर्स का मूमेन्ट बहुत अच्छा होना चाहिए साथ ही जवानो में किसी भी प्रकार की निरस्ता रहीं होनी चाहिए। उनका आत्म बल बडाने का बराबर प्रयास करे।

कार्यवाही के बाद गिरफ्तार भी करे
कमिश्नर एवं आईजी ने थाना प्रभारियों को निर्देश देते हुए कहा कि विवाद के समय शान्ति से काम ले किसी भी व्यक्ति पर कार्यवाही करने के बाद उसे गिरफ्तार भी करे तथा गिरफ्तार करने में पुलिस पीछे न हटे।

वायरलेश सेट से हि आदेश जारी करे मोबाईल से नहीं
कमिश्नर एवं आईजी ने थाना प्रभारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वायरलेश सेट से हि आदेश जारी करे मोबाईल के माध्यम से नहीं क्योंकि वायरलेश सेट से दिया हुआ आदेश सभी को एक साथ सुनाई देता है जिससे तुरन्त एक्शन लेने की कार्यवाही कर सकते है।

जाम की स्थिति से निपटने के लिये टोल नाकों को करे फ्री
कमिश्नर एवं आईजी ने थाना प्रभारियों को निर्देश देते हुए कहा कि घटना के समय ज्यादातर जाम की स्थिति निर्मित हो जाती है तथा टोल नाकों पर वाहनों की लम्बी कतारे लग जाती है हाईवे को फ्री करने के लिये टोल नाकों को सबके लिये फ्री कर दे। हाईवे के आसपास भोजन के लिये जो ढाबे निर्मित है वहां पर ट्रक वालो को न रूकने दे।

किसान गांव से सब्जी एवं दूध वाहनों में लाते है, वाहनो की सुरक्षा हो इसके लिये सम्पूर्ण तैयारियां हो
कमिश्नर एवं आईजी ने एसडीओपी को निर्देश दिये कि वे गांव-गांव जाये तथा किसानों से मिले और बात करे। किसानों की समस्याओं पर विशेष ध्यान दे तथा अगर किसी को कुछ समस्या है तो उसका तुरन्त समाधान भी करे। साथ ही किसानों से लगातार सम्कर्प में रहे। जो किसान गांव से सब्जी एवं दूध किसी वाहन में भरकर शहर लाते है तो उनके वाहनो की सुरक्षा हो इसके लिये सम्पूर्ण तैयारियां कर के रखे।

हाईवे पर स्थित दुकानो पर रखे टायरों को तत्काल हटवाये
कमिश्नर एवं आईजी ने थाना प्रभारियों को निर्देश देते हुए कहा कि हाईवे के आसपास जो आटोपार्ट की दुकाने स्थित है वहा पर काफी अधिक मात्रा में टायर रहते है उन टायरों को वहा से तत्काल हटवाने की कार्यवाहि करे। अगर चक्का जाम की स्थिति निर्मित होती है तो उससे निपटने के लिये पार्किंग स्थलों का चयन कर ले। पार्किंग स्थल पर पानी की समूचित व्यवस्था हो जहा पर प्यासे लोग पानी पी सके। रोड पेट्रोलिंग करे तथा जहा पर आवश्यक कार्यवाही करनी हो वहा पर आवश्यक कार्यवाही करे। जेसीबी के साथ फायर ब्रिगेड की भी समूचित व्यवस्था बना कर रखे।

कृषि विभाग एवं मण्डी सचिव को निर्देश देते हुए कहा कि मण्डी में किसानों की फसल तुलावटी में अधिक समय न ले फसल जल्द तौल कर किसानों को फ्री करे। जहा-जहा पर बारदान नहीं उन मण्डियों में तत्काल बारदान पहंुचाए जाये। किसानों को भुगतान को लेकर किसी भी प्रकार की समस्या न हो जिन किसानो के भुगतान का कार्य बाकी है वो 30 मई तक पूर्ण कर ले।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts