Breaking News

पैसों की कैसे बचत करें

पैसों की बचत करना उन कार्यों में से एक है जो कहना वास्तव में करने से बहुत आसान है – हर कोई यह जानता है कि लंबे समय में पैसा बचाना समझदारी है, लेकिन हम में से कई अभी भी इसे करने में कठिनाई महसूस करते हैं। बचत के लिए खर्च कम करने के अलावा भी और कई रास्ते हैं, यह अकेला चुनौतीपूर्ण हो सकता है। स्मार्ट मनी-सेवर्स को अपनी आय को बढ़ाने के साथ-साथ मौजूदा पैसों को कैसे अच्छी तरह से खर्च करें पर विचार करने की जरूरत है। निम्न बिन्दुओं से शुरुवात करें, जिसमे वास्तविक लक्ष्यों को निर्धारित करना, अपने खर्चो पर नज़र रखना और अपने पैसो पर लंबी अवधि में लाभ प्राप्त करना शामिल है।

1 सर्वप्रथम स्वयं को भुगतान करें: खर्च करने के बजाय पैसा बचाने के लिए सबसे आसान तरीका है, यह सुनिश्चित करना कि आपको कभी भी पहली बार में पैसे खर्च करने का मौका नहीं मिलता है। अपनी मासिक आय में से एक हिस्से को बचत खाते या सेवा-निवृत्ति के खाते में जमा करें, जो कि आपको हर माह कितना खर्च करें और कितना बचाएं की चिंता और कठिनाई से बचाएगा। मूल रूप से, ऐसा करके आप अपने-आप बचत कर पातें हैं, और प्रत्येक माह बचाये हुए यह पैसे आप के ही उपयोग के लिए हैं, जो कि आप अपनी इच्छानुसार खर्च कर सकते हैं। समय के साथ, मासिक आय से अपने बचत खाते में जमा करी गई छोटी राशी (खासतौर पर ब्याज सहित) भी एक बड़ा हिस्सा बन जाती हैं इसलिए ज्यादा से ज्यादा लाभ लेने के लिए जल्द से जल्द बचत शुरू करें।
स्वचालित बचत के लिए: अपने कार्यालय के पैरोल स्टाफ से बात करें (यदि आपका नियोक्ता तीसरे पक्ष की पैरोल सेवा लेता है तो)। यदि आप अपने मूल खाते के अलावा अपने बचत खाते की जानकारी दे सकते हैं; तो आप बिना किसी कठिनाई के सीधी जमा योजना स्थापित करने में सक्षम हो सकते हैं।
यदि किसी कारणवश आपकी स्वचालित बचत स्थापित नहीं हो पाती है तो (जैसे कि आप फ्रीलांस काम करते हैं या नकद में ज्यादातर भुगतान किया जाता है तो) निश्चित तौर पर एक विशिष्ट नकद राशि प्रत्येक माह बचत खाते में जमा कराएं और अपने इस लक्ष्य पर अड़े रहें।

2 नए क़र्ज़ से बचें: कुछ क़र्ज़ अनिवार्य रूप से अपरिहार्य है। उदाहरण के लिए, घर के लिए कर्ज़, केवल बहुत अमीर लोग ही एक मुश्त राशी का भुगतान कर घर खरीद सकते हैं, अभी भी लाखों लोग ऋण लेकर मकान खरीदते हैं और बाद में उसे धीरे-धीरे चुकाते हैं | हालांकि, सामान्य रूप से, यदि आप क़र्ज़ लेने से बच सकते हैं तो बचें। हमेशा नगद भुगतान करना, क़र्ज़ लेकर, लम्बे समय में उसे ब्याज सहित चुकाने से सस्ता होता है।
यदि ऋण लेना अपरिहार्य है, तो कोशिश करें कि खरीद की लागत का अधिक से अधिक उप-फ्रंट (नगद) भुगतान करें और कम से कम क़र्ज़ ले ताकि कम ब्याज चुकाते हुए जल्द से जल्द क़र्ज़ को चुका सकें।

हर किसी की वित्तीय स्थिति अलग-अलग होती है, ज्यादातर बैंक सलाह देते हैं कि आपका क़र्ज़ आपकी कर पूर्व आय का 10% होना चाहिए वहीँ 20% के नीचे कुछ भी स्वस्थ माना जाता है, जबकि 36% को ऋण की उचित मात्रा के लिए एक “ऊपरी सीमा” के रूप में देखा जाता है.

3 उचित बचत लक्ष्य निर्धारित करें: यदि आपको पता है कि आपको किस लिए बचाना है, तो बचत करना बहुत आसान है। गंभीरता से बचत करने के लिए अपनी पहुंच के भीतर के बचत लक्ष्यों को निर्धारित करें, जो कि आपको बचत करने के लिए प्रेरित करें। घर खरीदना या सेवा-निवृत्ति जैसे गंभीर लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए वर्षों या दशकों लग सकते हैं। इन मामलों में, एक नियमित आधार पर अपनी प्रगति की निगरानी करना महत्वपूर्ण है। केवल बड़ी तस्वीर पर एक नज़र के द्वारा आप जान जाओगे कि आप लक्ष्य के कितने करीब आ गए और अभी कितना और चलना बाकी है।

बड़े लक्ष्य, जैसे सेवानिवृत्ति को प्राप्त करने में बहुत लंबा समय लगेगा। इन लक्ष्यों तक पहुंचने के लिए आवश्यक समय में, वित्तीय बाजार में आज की तुलना में काफी बदलाव आ जाएगा, इसलिए लक्ष्य निर्धारित करने से पहले थोड़ी सी बाजार के बारे में जानकारी जुटाने की ज़रुरत है| उदाहरण के लिए, सबसे अधिक वित्तीय सलाहकार कहते हैं कि आपको सेवानिवृत्त के बाद हर साल अपने वर्तमान जीवन शैली को बनाए रखने के लिए अपने वर्तमान वार्षिक आय का लगभग 60-85% की आवश्यकता होगी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts