Breaking News

प्रत्याशियों का भाग्य स्ट्रांग रूम के कड़े सुरक्षा पहरे में

मंदसौर। विधानसभा चुनाव को लेकर संपन्न हुए मतदान के बाद ईवीएम मशीनों को स्ट्रांग रुम में रखा गया है। पीजी कॉलेज में बने स्ट्रांग रुम में प्रत्याशियों का भाग्य इन ईवीएम में कैद है। जिसे कड़े सुरक्षा पहरे में रखा गया है। मतदाताओं द्वारा दिया गया फैसला अब ११ दिसबंर को इन मशीनों से निकलकर बाहर आएगा। २४ घंटे ईवीएम पर सतत निगरानी रखी जा रही हैतो यहां विशेष सुरक्षा बलों के जवान पहरा भी दे रहे है। इन सबके अलावा यहां हाई फोकस के कैमरें भी लगाए गए है।

हर विधानसभा की ईवीएम को रखा अलग कमरे में
स्ट्रांग रुम पर देर रात तक जमा की गई ईवीएम को यहां बनाए गए कमरों में सुरक्षित रखा गया। मंदसौर के साथ ही सुवासरा, गरोठ व मल्हारगढ़ विधानसभा में बनाए ११४० मतदान केंद्रों की ईवीएम मशीनों को विधानसभा वार यहां क्रमानुसार अलग-अलग कक्षों में जमाया गया। इन कक्षों के बाहर और फिर स्ट्रांग रुम के मुख्य गेट पर भी सुरक्षा बल के जवानों को विशेष तौर पर तैनात किया गया। ११ दिसबंर को होने वाली मतगणना को लेकर अब पीजी कॉलेज में बनाए गए स्ट्रांग रुम पर तैयारियों का दौर शुरु होगा। प्रशासन ने मतदान शांतिपूर्ण संपन्न होने के बाद बड़ी राहत की सांस ली है। अब मतगणना को लेकर तैयारियां यहां शुरु की गई है।

रातभर चला सामग्री जमा करने का दौर
बुधवार को शाम को मतदान संपन्न होने के बाद मतदान दलों का मंदसौर में बने स्ट्रांग रुम पर आने का दौर शुरु हुआ। जिले की चारों विधानसभा सीटों के सभी ११४० मतदान केंद्रों से आई ईवीएम को यहां जमा करते हुए मतदान दलों ने सामग्री जमा करवाई। शाम ७.१५ बजे सबसे पहला दल आया। इसके बाद सामग्री व मशीनें जमा करने का यह दौर शुरु हुआ जो रातभर चलता रहा। सुबह ६ बजे तक यह प्रक्रिया चलती रही। जिस केंद्र की सामग्री जमा हुई।उस केंद्र में शामिल कर्मचारियों को चुनावी ड्युटी से मुक्त करने का दौर चलता रहा।निर्धारित रुट की बसों से मतदान टीमें यहां पहुंची और फिर इन कर्मचारियों को छुड़वाया गया।

दिनभर दफ्तरों में पसरा रहा सन्नाटा
मतदान के बाद गुरुवार को दिनभर सरकारी दफ्तरों में सन्नाटा पसरा रहा। दरअसल ५ हजार से अधिक जिले के कर्मचारी मतदान दलों में शामिल किए गए थे तो पुलिस से लेकर प्रशासनिक अमले के सभी अधिकारी भी निर्वाचन के काम में लगे थे। ऐसे में मतदान प्रक्रिया के बाद देररात को सामग्री जमा कराने के बाद फ्री हुए सभी अधिकारियों व कर्मचारियों ने गुरुवार को जरनी डे मनाया। इसके चलते सरकारी दफ्तरों में सन्नाटा रहा। अधिकारियेंा व कर्मचारियों ने दिनभर आराम करते हुए चुनावी काम की थकान दूर की।

अफसरों ने दोपहर में किया निरीक्षण
पीजी कॉलेज स्ट्रांग रुम पर गुरुवार को दोपहर में लगाए टेंट व बनाए गए स्टॉल को समेटने का काम चल रहा था। इस बीच यहां जमा की गईईवीएम मशीनों के चलते दोपहर में अफसर यहां निरीक्षण करने पहुंचे। कलेक्टर ओपी श्रीवास्तव यहां पहुंचे और जानकारी ली। इस दौरान एसडीएम एसएल शाक्य व तहसीलदार ब्रह्मस्वरुप श्रीवास्तव के साथ अन्य मौजूद थे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts