Breaking News

प्रदेश मे कांग्रेस सरकार और महिला कांग्रेस पार्षद ओर पति ने दिया धरना

मंदसौर. नगर पालिका अमला वायडीनगर पुलिस को लेकर शहर की पाश कॉलोनियों में से एक किटयानी कॉलोनी वार्ड क्रमांक एक में मंगलवार को एक बजे अतिक्रमण हटाने के लिए पहुंचा। नपा अमले द्वारा घरों के बाहर किए गए पक्के अतिक्रमण को तोडऩा शुरु किया। अतिक्रमण तोडऩे की सूचना जैसे ही वार्ड पार्षद रूपल संचेती को मिली। वे मौके पर पहुंची और नगर पालिका अधिकारियों के सामने अतिक्रमण की कार्रवाई का विरोध किया। पार्षद संचेती ने नपा अधिकारियों से कहा कि बिना सूचना के कैसे अतिक्रमण तोड़ रहे हो। इस पर अधिकारी ने कहा कि कई बार नोटिस दे चुके है। पार्षद संचेती ने इस पर अधिकारियों को कहा कि आपने किसी तरह का नोटिस नहीं दिया है। पहले सीसी रोड बनाओ फिर जाकर अतिक्रमण हटेगा। इस बीच जब कार्रवाई नहीं रुकी तो पार्षद रूपल संचेती जेसीबी के आगे बैठ धरना शुरु कर दिया। पार्षद ने सीएमओ आरपी मिश्रा से भी अतिक्रमण की कार्रवाई को लेकर बात की। इसके बाद काफी देर तक कार्रवाई रुकी रही। बाद में नपा अमला अतिक्रमण की कार्रवाई छोड़ लौट गया।

नगर पालिका सहायकयंत्री आरसी तोमर नगर पालिका अमले को लेकर किटयानी क्षेत्र में पहुंचे। यहां पर उन्होंने रोड पर बने पक्के अतिक्रमण को तोडऩा शुरु किया। इस दौरान पुलिस बल भी तैनात था। यहां पर कुछ लोगों ने अतिक्रमण का विरोध भी किया। लेकिन अधिकारियों ने सुना-अनसुना कर दिया। करीब 10 मकानों के बाहर पक्के अतिक्रमण को तोड़ा गया। और एक मकान का अतिक्रमण आधा तोड़ा ही था कि पार्षद रूपल संचेती मौके पर पहुंची। जब नपा अमले से बात करने पर बात नहीं बनी तो पार्षद संचेती पति अंशाशु संचेती के साथ जेसीबी के आगे बैठ धरना प्रदर्शन शुरु कर दिया। इसके बाद अतिक्रमण नहीं तोड़ा गया।

नगर पालिका सहायकयंत्री आरसी तोमर ने कहा कि सीएम हेल्पलाइन में पक्के अतिक्रमण को लेकर दो साल पहले रवि नामक युवक ने शिकायत की थी। समस्या का समाधान नहीं हुआ तो अधिकारियों को उच्च अधिकारियों द्वारा नोटिस भी जारी किए। इसके बाद नगर पालिका सीएमओ द्वारा पक्के अतिक्रमण हटाने को लेकर निर्देशित किया गया। उसके बाद अतिक्रमण तोडऩे की कार्रवाई की गई।

पार्षद रूपल संचेती ने कहा तीन साल से रोड के लिए लड़ाई लड रहे है। हमने सीसी का आवेदन दिया था। अधिकािरयोंं ने कहा डामर रोड बनेगा। हमने कहा डामरी करण करो तो कहने लगे कि यहां सीसी रोड ही सक्सेस है। कई बार टेंडर हो गए। लेकिन काम नहीं हो रहा है। सीएमओ को कई बार वार्ड का निरीक्षण करने के लिए बोल दिया। लेकिन वे नहीं आए। और आज बिना सूचना के अतिक्रमण तोडऩा शुरु कर दिया। आपको पहले पार्षद को सूचित करना चाहिए। जब तक सीसी रोड नहीं बनेगा तब तक अतिक्रमण नहीं हटेगा। सीसी रोड का काम शुरु होगा तो अतिक्रमण भी हट जाएगा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts