Breaking News

प्रशासनिक अधिकारियो के सामने सरपंच पति के साथ की खनन माफियाओं ने मारपीट

मंदसौर। सीतामऊ क्षेत्र के ग्राम मामटखेडा में चंबल नदी में अवैध रेत खनन को रोकने के लिए एसडीएम, जनपद पंचायत सीईओ और मामट खेड़ा सरपंच पति बुधवार अपराह्न तीन बजे मौके पर पहुंचे। यहां पर सरपंच पति कम्मूलाल के साथ खनन माफियाओं ने मारपीट कर कपड़े फाड़ दिए।इस बीच एसडीएम और सीईओ ने सरपंच पति का बीचबचाव भी किया।इसके बाद खनन माफिया नदी पार राजस्थान की और भाग गए। इसके बाद काफी देर तक सरपंच पति सीतामऊ थाने पर बैठे रहे लेकिन रिपोर्ट दर्ज नहीं की गईहै। सरपंच पति कम्मूलाल ने बताया कि चंबल नदी में राजस्थान के कई खनन माफिया अवैध रूप से रेत निकालते है। बुधवार को एसडीएम साधुलाल प्रजापत, जनपद पंचायत सीईओ राकेश शर्मा और मैं नदी पर पहुंचे। वहां नदी से करीब तीस से ४० जेसीबी से रेत निकाली जा रही थी। एसडीएम द्वारा खनन करने के लिए मना किया तो रेत माफियाओं ने कहा कि राजस्थान क्षेत्र की नदी से खनन कर रहे है। इसके बाद वे २० से २५ लोगों ने मेरे साथ मारपीट की और कपड़े फाड़ दिए। और वे नदी में चले गए। इसके बाद हम गाड़ी से आ गए। सरपंच पति ने बताया कि काफी देर से थाने पर बैठा हंू लेकिन मेरी रिपोर्ट दर्जनहीं होती है। इस नदी से रोजाना अवैध खनन हो रहा है। लेकिन कोई कार्रवाईनहीं करता है। मेरे साथ मारपीट हुईतब १०० डायल पर फोन किया। लेकिन वह काफी देर से आई।

फोर्स कम था
जनपद पंचायत सीईओ राकेश शर्मा ने कहा कि शिकायत मिली थी तो सरपंच पति के साथ नदी पर गए थे। जहां पर सरपंच पति के साथ झूमाझटकी की गई।और वे भाग गए। हमारे पास फोर्सभी कम था। नदी से किसी को भी अवैध खनन नहीं करने दिया जाएगा। इसके लिए आगे फोर्सके साथ कार्रवाईकी जाएगी।

एसडीएम का कहना..
हमको पता लगा कि वहां अवैध रेत खनन हो रहा है। तो मैं, सीईओ और सरपंच पति के साथ वहंा पर पहुंचे। हमने देखा तो वे भाग गए। कुछ देर बाद एकत्रित होकर आए। वह राजस्थान का क्षेत्र था। सरपंच पति के साथ गाली गलौच की। मध्यप्रदेश के तहत आने वाले क्षेत्र से कोई खनन नहीं करें इसके लिए सतत कार्रवाई की जाएगी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts