Breaking News

फिर चली शहर को अतिक्रमण मुक्त करने की अधूरी योजना

टीम ने किसी की काटी रसीद, किसे के बनाये चालान और किसी को दिया चमको माईसीन

मंदसौर। नगर की अस्त व्यस्त यातयात व्यवस्था को सुधारने की गरज से शुक्रवार को नगर पालिका व यातयात पुलिस द्वारा शहर को अतिक्रमण मुक्त करने की आधी अधुरी कार्य योजनो को जमीन पर उतारने का आंशिक प्रयास किया। इस टीम को आंशिक सफलता भी मिली,परंतु पक्षपात का आरोप भी लगा।

अतिक्रमण मुक्त करने का यह प्रयास हालांकि नगर के उन व्यस्त बाजारों में किया गया। जहॉ की लम्बी चौड़ी सड़कों ने गलियों का रूप धारण कर लिया था। जहॉ व्यवसाईयों ने अपना सामान रोड़ पर रखा था वहीं दो पहिया वाहनों के कारण मार्ग बाधित हो रहा था। टीम ने सग्राट मार्केट,धानमंडी,वरूण देव चौक रोड़,कालाखेत को अपना कार्य क्षेत्र बनाया था। यहॉ से टीम ने कुछ दो पहिया वाहन भी जब्त किये वहीं मार्ग को बाधित करने वाले वाहनों के चालान भी बनायें,रसीेदें भी काटी और यातायात विभाग में पदस्थ होमगार्ड के जवान ने वाहनों के फोटो भी खिंचे। शायद ई चालान से उनसे राशि वसूली जायेगी।

शहर को अतिक्रमण मुक्त करने की इस कार्यवाही से टीम के उपर पक्षपात करने के आरोप भी लगे। इस टीम ने कई स्थानों पर वाहन मालिकांे को चमकोमाईसिन देते हुए आगे से रोड़ पर वाहन खड़ें नहीं करने की चेतावनी दी।

होर्डिग्स् भी हटायें
टीम ने विभिन्न विद्युत पोलों पर लगे होर्डिग्स् को भी हटाया। परंतु उन होर्डिग्स् को छेड़ा भी नहीं गया जिन पर विधायक या नपा के सभापतियों के नाम थे। इस कार्यप्रणाली से आमजन में रोष जरूर था। लेकिन विधायक के होर्डिग्स् नहीं हटाकर टीम ने विधायक को ही बदनाम करने का प्रयास किया है।

निरंतर चलें अभियान तो सुधरे व्यवस्था
शहर की ध्वस्त यातायात व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिये प्रयास होना भी चाहिए। परंतु निष्पक्षता से और यह भी एक दो दिन नहीं निरंतर चलना चाहिए। ताकि बिगड़ी यातायात व्यवस्था को सुधारने में सहायता मिलें।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts