Breaking News

फूड प्रोसेस पार्क की स्थिति स्पष्ट करें – पूर्व उद्योग मंत्री नरेंद्र नाहटा ने उठाए सवाल

दलौदा में मेगा फूड प्रोसेस पार्क की स्वीकृति के लिए प्रशासन बधाई का पात्र है 500 करोड़ का निवेश दलौदा क्षेत्र में होगा तो यह समूचे अंचल के विकास में महत्वपूर्ण योगदान भी देगा। फूड प्रोसेस पार्क को लेकर जो भ्रम की स्थिति बनी है उसे भी स्पष्ट किया जाना चाहिए।

यह सवाल उठाते हुए पूर्व उद्योग मंत्री नरेंद्र नाहटा ने कहा कि प्रशासन को स्पष्ट करना चाहिए कि फूड प्रोसेस पार्क के लिए आशय पत्र जारी हुआ है या स्वीकृति पत्र? यह पत्र मंदसौर जिले के लिए है या केवल दलौदा ग्राम के लिए? यह फूड प्रोसेस पार्क किस भूमि पर विकसित किया जाएगा? 500 करोड़ का निवेश शासन करेगा या निजी संस्था। प्रशासन स्पष्ट करे कि मंदसौर में जग्गाखेड़ी स्थित फूड प्रोसेस पार्क अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में क्यो असफल रहा। जब जग्गाखेड़ी पार्क में प्रशासन असफल रहा तो अब दलौदा में किस आधार पर सफलता के दावे किया जा रहे हैं। यह भी आश्चर्यजनक बात है कि क्षेत्र में होने वाले हर कार्य का श्रेय लेने वाले जनप्रतिनिधि इतने बड़े प्रोजेक्ट के बारे में अनभिज्ञता जाहिर कर रहे हैं। यह स्थिति स्पष्ट होने पर ही दलौदा में फूड पार्क की सफलता का अनुमान लगाया जा सकता है। हमे विश्वास है कि प्रशासन शीघ्र ही स्थिति स्पष्ट करेगा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts