Breaking News

फेसबुक पर दोस्ती कर घर बुलाया : नग्न तस्वीरें खींच ब्लैकमैल करने वाले दो गिरफ्तार

एक महिला आरोपी की पुलिस को तलाश

मंदसौर। हनी ट्रैप के एक मामले मंदसौर पुलिस को एक महत्वूपर्ण सफलता प्राप्त हुई। जिसके अंतर्गत दो आरोपी गिरफ्तार किए गए है। एक मुख्य आरोपिया पुलिस की गिरफ्त से बाहर है जिसे जल्द गिरफ्तार करने का दावा पुलिस द्वारा किया जा रहा है।

पुलिस द्वारा बताई गई जानकारी के अनुसार विगत 1 माह से दलौदा निवासी एक युवक को एक महिला ने फेसबुक के जरिए दोस्ती की और उसको एक हजार रूपये की सहायता करने के बहाने से अपनी सहेली के घर बुलाया जहां पर दिलीप सोनी और लोकेश शर्मा नाम के दो युवकों ने उस की नग्न तस्वीरें खींच ली। जिसके बाद महिला व दोनों युवकों द्वारा उक्त युवक को ब्लैकमेल का 50 हजार रूपयों की की मांग की।

घटना के बाद युवक ने मंदसौर पुलिस अधीक्षक कार्यालय पर पहुंचकर आप बीती सुनाई। जिसके बाद पुलिस अधिक्षक ने वायडी नगर टीआई विनोद कुशवाह और कोतवाली टीआई नरेंद्र यादव के नेतृत्व में एक टीम बनाई गई। जिसमें उपनिरीक्षक रवि डामोर तथा अन्य कर्मचारियों को शामिल किया जिस पर दोनों युवकों को हिरासत में लिया गया। पुलिस ने बताया कि अभिनंदन नगर की उस महिला को हिरासत में लिया है जिसके घर पर यह फोटोग्राफ खींचे गए थे इस संबंध में थाना कोतवाली पर प्रकरण पंजीबद्ध किया जा कर विवेचना की जा रही है।

और भी मामले स्वीकारें
पुलिस द्वारा प्राथमिक पूछताछ में आरोपियों ने इस तरह के तीन चार प्रकरण और करना स्वीकार किया है। बताया जाता है मामले की मुख्य आरोपीया एक महिला जो कि नीमच निवासी है फिलहाल फरार है जिसे पुलिस द्वारा गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है।

जल्द पकड़ जायेगी आरोपिया भी
मामले में दो गिरफ्तारी हुई है और महिला को भी हिरासत में लिया है जहां पर घटना घटित हुई है। मामले में एक नीमच निवासी महिला मुख्य आरोपिया ने जिसकी तलाश की जा रही है जल्द उसे भी गिरफ्तार कर लिया जायेगा। नरेन्द्र यादव, टीआई, शहर थाना

यह है पूरा घटनाक्रम 
सीएसपी राकेश मोहन शुक्ल ने बताया कि विगत 1 माह से दलोदा निवासी एक युवक को नीमच की महिला रंजना नागदा अपने दोस्तों के साथ मिलकर उसके अश्लील फोटो के बहाने उसे ब्लेकमेल कर रही थी। महिला की फेसबुक से युवक से दोस्ती हुई थी। और उसको 1000 रुपए की की सहायता करने के बहाने से अपनी सहेली के घर बुलाया। जब युवती के बुलाए गए स्थान पर वह पहुंचा तो वहां पहले से मौजूद दिलीप सोनी और लोकेश शर्मा ने पीडि़त युवक की अश्लील फोटो ली। यह फोटो दिखाकर तीनों मिलकर युवक को ब्लेकमेल करने लगे और फोटो वायरल करने की धमकी देने लगे। ब्लेकमेल करते हुए 50 हजार रुपयों की मांग की।युवक ने जब आरोपियों से अधिक राशि की बात कही तो दोनों में २० हजार की बात तय हुई। फोटो वायरल होने के डर से युवक ने आरोपियों को १० हजार रुपए दे दिए थे और बात के अनुसार १० हजार और देने वाला था। इसी बीच उसने सीएसपी कार्यालय पहुंचकर शिकायत करते हुए घटना की जानकारी दी।

जिसके घर फोटो लिए उसे भी लिया हिरासत में
पुलिस ने बताया कि शिकायत पर टीम बनाई। इसमें वायडी टीआई विनोद कुशवाह व कोतवाली टीआई नरेंद्र यादव के साथ एसआई रवि डामोर तथा अन्य को शामिल किया। टीम ने आरोपियों की तलाश शुरु की। इसमें दिलीप सोनी व लोकेश शर्मा को गिरफ्तार किया। वहीं अभिनंदन नगर की उस महिला को भी हिरासत में लिया जिसके घर आरोपियों ने युवक के फोटो लिए थे। मामले में कोतवाली पुलिस ने तीनों आरोपियों पर प्रकरण दर्ज किया है।

कई रसूखदार नाम भी इनके संपर्क में
आरोपियों ने पूछताछ में इस तरह के तीन से चार मामले पूर्वके कबूल किए है। मुख्य आरोपिया फरार है। पुलिस उसकी तलाश कर रही है। महिला इस प्रकार का गिरोह चलाती है। पूर्वमें मामले सामने आने के बाद पुलिस अन्य मामलों की जांच भी कर रही है।मुख्य आरोपी महिला के फेसबुक प्रोफाईल को पुलिस खंगाल रही है। उसके अनुसार कई बड़े व रसूखदार नाम था जिले के कईलोग इसके संपर्कमें है। पुलिस मामले की जांच कर रही हैकि इस गिरोह की ब्लेकमेलिंग के शिकार कितने लोग हुए है। सीएसपी शुक्ला के पास ऐसी सूचना आई कि इस आरोपी महिला ने कई सफेदपोश लोगों को भी शिकार बनाया है। इसके बाद पुलिस इसकी भी जांच करेगी।

९ मामले दर्ज मुख्य आरोपी रंजना के खिलाफ 
नीमच कैट पुलिस ने मिली जानकारी के अनुसार नौ प्रकरण लूट, चोरी, धमकाना, ठगी करना और घर में घूसकर अपराध करने के मामले मुख्य अभियुक्त रंजना के खिलाफ दर्जहै। नीमच पुलिस ने रंजना के खिलाफ प्रतिबंधात्मक कार्रवाईभी की थी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts