Breaking News

बंधवार हत्याकण्ड को लेकर एसआईटी की टीम ने दी नगर में आमद

हत्या की तह में जाने के प्रयास शुरू

मंदसौर। नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार की गोली मारकर की गई हत्या की जांच को तह तक ले जाने के लिए शासन द्वारा गठित एसआईटी की टीम ने रविवार को ही अपनी आमद नगर में दे दी थी। रविवार के दिन टीम के कुछ सदस्यों ने घटना स्थल का निरीक्षण का आस पास वालों से पूछताछ भी की थी।

सोमवार को एसआईटी की टीम के सदस्यों ने दिवंगत प्रहलाद बंधवार हनुमान नगर निवास पहुंचकर बंधवार के पुत्र नरेन्द्र बंधवार सहित अन्य परिजनों से चर्चा भी की है। सूत्रों के अनुसार ज्ञात हुआ है कि श्री बंधवारों के परिजनों ने लगभग 8 – 10 बिन्दुओं पर टीम का ध्यान आकृषित करते हुए बताए गए बिन्दुओं पर जांच का अनुरोध किया है। टीम ने भाजपा के नेता लोकेन्द्र कुमावत के यहां भी पहुंचकर उनसे भी हत्याकाण्ड को लेकर पूछताछ की है।

स्मरण रहें कि 17 जनवरी को नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार की लोकेन्द्र कुमावत के प्रतिष्ठान के सामने ही गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। हालांकि पुलिस ने हत्या के आरोप में मनीष बैरागी को गिरफ्तार कर तीन तीन बार रिमाण्ड पर भी लिया था। लेकिन बैरागी ने 25 हजार रूपयों को लेकर श्री बंधवार की हत्या करने की बात स्वीकार की थी। हालांकि 25 हजार के लिए हत्याकाण्ड को अंजाम देना किसी के भी गले नहीं उतर रही थी। इसकी उच्च स्तरीय जांच हेतु बंधवार परिवार अनशन पर भी बैठा था। जनमंच द्वारा घरना भी दिया जा रहा था। सभी की मांग थी कि घटना की उच्च स्तरीय जांच होकर इसे अंजाम तक पहुंचाया जाए।

विगत् दिनों राष्ट्रीय साहू समाज के प्रतिनिधि मंडल ने मुख्यमंत्री कमलनाथ से भेंट कर जांच की मांग की थी। मुख्यमंत्री ने नपाध्यक्ष की हुई हत्या को गंभीरता से लेते हुए तत्काल एसआईटी का गठन का जांच का जिम्मा सौंपा था। एसआईटी टीम में पुलिस महानिरीक्षक डी श्रीनिवास वर्मा, सहायक पुलिस महानिरीक्षक राजीव मिश्रा, उप पुलिस अधीक्षक पवन मिश्रा, निरीक्षक ज्योति शर्मा और मुख्तार कुरैशी को शामिल किया गया था।

एसआईटी की टीम की जांच से ही नगर की जनता को भरोसा हैं कि वे हत्याकांड के वास्तिविक कारणों को पता लगाकर जो भी दोषी होगा उसे कड़ी सजा मिलेगी। हालांकि प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्वििजय सिंह ने श्री बंधवार की हत्या को राजनीतिक हत्या बताते हुए उच्च स्तरीय जांच कराने की बात भी कही थी।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts