Breaking News

बच्चे जब तक घर तक नही पहुँच जाए तब तक बच्चे की जवाबदारी स्कूल प्रशासन की तय की जाये

महिलाओ की सुरक्षा की मांग को लेकर अपर कलेक्टर व एएसपी को सौंपे ज्ञापन

मंदसौर। पिछले दिनों से लड़कियों और महिला तथा बच्चों की सुरक्षा की मांग को देखते हुए महिला आयोग की सखियों तथा सामाजिक संस्था लाड़ली परिवार के सदस्यों ने बुधवार को कलेक्टर व पुलिस अधीक्षक के नाम का एक ज्ञापन अपर कलेक्टर अनिल डामोर, अतरिक्त पुलिस अधीक्षक सुंदर सिंह कनेश को देकर मांग की गई कि स्कूलों, कालेज होस्टलों, सार्वजनिक स्थानों पर बच्चों की सुरक्षा, सतर्कता बढ़ाना चाहिए जिससे आसपास घूमने वाले संदिग्घों से पूछताछ कर उन पर कार्यवाही की जाना चाहिए। ऐसे स्थानों पर निरन्तर नजर रखी जाना चाहिए, स्कूलो को विशेष रूप में इस तरह निर्देशित किया जाना चाहिए कि हर आने व जाने तथा छोड़ने व लेने वालों का रजिस्टर मेन्टेन किया जा। स्कूलों के स्टाफ का रिकार्ड थाने पर तथा समय समय पर उनका पुलिस वेरिफिकेशन किया जाना चाहिए।

ज्ञापन में मांग कि गई है कि प्रत्येक स्कूल में निर्भया शिकायत पेटी होना चाहिए जिसको निर्धारित समय समय पर महिला एस आई और सामाजिक सदस्य और जो उचित हो उनकी उपस्थिति में खोल कर उन शिकायतों ओर समस्याओं का निराकरण करना चाहिए, स्कुलो कालेज के आसपास अस्थाई दुकानों जैसे चाय, पान, गुटखा, खुला खाद्य प्रदार्थ जिससे बच्चों के स्वास्थ व सुरक्षा को खतरा हो को हटाना जाना चाहिए। बच्चों को सुरक्षा, अधिकार, जागरूकता, शिक्षा क्यो जरूरी है, नेट मोबाइल वाट्सअप, फेसबुक पर क्या सावधानियां नुकसान विषय पर समय समय पर जानकारियां उपलब्ध कराना, प्रत्येक स्कुलो में आवश्यक नम्बरो की जानकारी तथा यह भी सूचना हो कि इन नम्बरो का उपयोग कब कैसे करें क्यो आवश्यक है तथा बच्चे जब तक विद्यालय से घर तक नही पहुँच जाते तक बच्चे की जवाबदारी स्कूल प्रशासन की तय की जाये, यह भी सुनिशचित हो कि प्रत्येक स्कुलो में कैमरे चालू हालात में हो और आवश्यकता पढ़ने पर जांचे भी साथ मे क्या क्या सुरक्षा व्यवस्था हो समय समय निरीक्षण हो, स्कुलो के प्राइवेट आटो, टेम्पो, मैजिक वाहन अन्य की समय समय पर आवश्यक जांच व चालक परिचालक का पुलिस वेरिफिकेशन हो, स्कूली वाहनों में चाहे छोटे बड़े हो महिला अटेंडर आवश्यक होना चाहिए साथ ही कैमरे की भी व्यवस्था हो विशेष कर लड़कियों को उतारने व चढ़ाने में महिला अटेंडर आवश्यक रूप से होना चाहिए। दोनों अधिकारियों ने आश्वाशन दिया है कि सबंधित विभागों को निर्देशित कर इन सुझावों पर जल्द से जल्द लागू किया जायेगा। इस अवसर पर महिला आयोग की सखी संगीनी श्रीमति मीना बोथरा सामाजिक संस्था के जिला सचिव अनिल संगवानी, उपाध्यक्ष श्रीमति प्रियंका कपूर, सह सचिव सुश्री रक्षिता भावसार, सदस्य नेहील डाँगी आदि उपस्थित थे। ज्ञापन का वाचन श्रीमति सुनीता भावसार ने किया। आभार समाजसेवी कैलाश मनवानी ने माना।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts