Breaking News

बहुत बड़ी खबर : अब मन्‍दसौर की माटी पर खेलेंगे जायेंगे अंतराष्‍ट्रीय क्रिकेट मैच

मंदसौर के संजय गांधी स्टेडियम पर अभ्यास मैच खेलने के लिए 19 दिसंबर को 14 वर्ष आयु वर्ग की मप्र क्रिकेट व बड़ौदा क्रिकेट टीम मंदसौर आई थी। 28 दिसंबर तक दोनों टीमों ने 2 दो दिवसीय मैच एवं 1 तीन दिवसीय मैच खेला था। इस दौरान सभी दिन पिच से एक समान बाउंस मिलने व बेटिंग के लिए भी उपयुक्त पिच मिलने पर बहुत पसंद आई। बड़ौदा के टीम सिलेक्टर के अनुसार क्रिकेट के लिए यह पिच श्रेष्ठ उदाहरण है। सिलेक्टर को पिच इतनी पसंद आई कि वह अपने साथ मंदसौर से दो बोरी मिट्टी साथ ले गए। वहां उन्होंने मिट्टी का प्रारंभिक परीक्षण कराया तो इसमे 50 फीसदी से अधिक क्ले कंटेंट मिले। जबकि आदर्श पिच के लिए मिट्टी में 45 फीसदी क्ले कंटेंट होना आवश्यक है। मंदसौर की मिट्टी में क्ले कंटेंट अच्छे होने पर अब बड़ौदा स्टेडियम की क्रिकेट पिच भी मंदसौर की मिट्टी से तैयार की जाएगी।

आधी मिट्टी मिलाएंगे
बड़ौदा सिलेक्टर व पिच क्यूरेटर के अनुसार एक क्षेत्र की मिट्टी वहां के प्राकृतिक स्थिति पर निर्भर रहती है। दूसरी जगह ले जाने पर पांच-सात साल में अपनी गुणवत्ता खो देती है। इसके लिए पिच के लिए आधी मंदसौर की मिट्टी व आधी बड़ौदा की मिट्टी का उपयोग किया जाएगा। जिससे लंबे समय तक पिच की गुणवत्ता को बढ़ाए रखने में सहायता मिलेगी।

– मंदसौर संजय गांधी स्टेडियम की पिच पर 20-28 दिसंबर तक दो दिवसीय व तीन दिवसीय मैच भी खेले गए। आखिरी दिन तक पिच पर एक समान बाउंस मिलता रहा। मंदसौर पिच की गुणवत्ता क्रिकेट के लिए श्रेष्ठ है। मंदसौर की मिट्टी का प्रारंभिक परीक्षण कराया है। इसमे 50 फीसदी से ज्यादा क्ले कंटेंट मिले हैं जो बहुत अच्छे हैं। अब इसे विस्तृत परीक्षण के लिए रिसर्च सेंटर भेज दिया है। उसके बाद रिपोर्ट के आधार पर स्टेडियम की पिच में इसका उपयोग किया जाएगा।

– विजय व्यास, चेयरमैन, सिलेक्शन कमेटी, अंडर 14 टीम, बड़ौदा

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts