Breaking News

बार-बार जलकर में वृद्धि कर परिषद् कर रही मंदसौर नगर की जनता के साथ अत्याचार

Story Highlights

  • सारे करों की वृद्धि के साथ मुख्यतः जलकर की वृद्धि परिषद् शीघ्र वापस ले

मन्दसौर। कड़वी दवा के नाम पर भारतीय जनता पार्टी व उनके जनप्रतिनिधि जनता को बार-बार मीठा जहर दे रहे है। आम जरूरतों की वस्तुओं के साथ-साथ जल पर भारी भरकम टैक्स बढ़ाना मंदसौर नगर की जनता पर भारी अत्याचार है।
उक्त आरोप लगाते हुए जिला कांग्रेस सचिव मो. खलील शेख, शहर कांगे्रस महामंत्री कमलेश जैन ने बताया कि भारतीय जनता पार्टी व उनके जनप्रतिनिधि चम्बल का पानी मंदसौर शहर की जनता के लिये उपलब्ध कराने के नाम पर कई बार जलकर में बढ़ोत्री कर चुके है। यह बढ़ोत्री सामान्य कनेक्शन पर 60 रूपये से लेकर अब 125 रूपये तक कर दी गई है। जो कि दो गुना से भी अधिक हो गई है। इतनी वृद्धि गरीब जनता पर अतिरिक्त बोझ बढ़ा रही है। खाद्य पदार्थ, पेट्रोल डिजल व आम जरूरतों की चीजांे पर मूल्य वृद्धि से तो पहले ही जनता जूझ रही है और ऐसे में पेयजल जैसी महत्वपूर्ण आवश्यक चीज पर बार-बार जलकर में वृद्धि करने से यह साबित होता है कि भारतीय जनता पार्टी की यह परिषद् जनविरोधी साबित हो रही है।
श्री शेख व श्री जैन ने कहा कि मंदसौर की जनता ने भाजपा के हाथों में नगरपालिका की सत्ता नगर विकास के नाम से सौंपी लेकिन यह नगरपालिका मात्र अतिक्रमणकर्ताओं को संरक्षण देने, चैराहों पर गुमटी लगाने तथा अपने स्वार्थ सिद्धी में ही लगी हुई। आम लोग एवं गरीब जनता के हित से इनका कोई सरोकार नहीं है। गरीब जनता पानी के लिये भी बढ़े हुए करों का भुगतान करने के लिये विवश होगी। नगरपालिका को चाहिए यह था कि पहले प्रतिदिन लोगों को नल से जल उपलब्ध कराती और चम्बल का पानी मंदसौर नगर की जनता को उपलब्ध कराती। लेकिन एक ही योजना के नाम पर कई बार वृद्धि करना शहर की भोली भाली जनता के साथ धोखाधड़ी है।
अंत में श्री शेख व श्री जैन ने महामहिम राज्यपाल व जिलाधीश महोदय को पत्र लिखकर मांग की है कि इस जनविरोधी फैसले पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाकर बढ़े हुए करों को वापस किया जावे ताकि मंदसौर नगर की आमजनता को थोड़ी राहत प्रदान हो सके।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts