Breaking News

बाहर से लोगों का आना जारी : शहर की सभी होटलें हुई बुक

 

– धर्मशालाओं व स्कूलों में भी ठहराना पड़ रहा सुरक्षा बलों को

– सुरक्षा में लगे अधिकारियों और कांग्रेस नेताओं से भरे कमरे

 

– देश का मीडिया भी पहुंचा शहर में, प्रशासन ने भी अधिकारियों के लिए एडवांस में ही बुक कर ली थी होटलें

 

– होटल संचालक बोले-सभी को जवाब दे देकर हो रहे हैं परेशान

 

 

मंदसौर। किसान आंदोलन की पहली बरसी पर 6 जून से पहले ही पुलिस के खासे इंतजाम और इधर, कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की पिपलियामंडी में होने वाली सभा। इसका असर शहर की होटलो व धर्मशालाओं पर पड़ा है। शहर में मौजूद लगभग 30 से अधिक होटलों के 500 से अधिक कमरे बुक हो गए हैं। इन सभी में सुरक्षा में जुटे अधिकारियों, कांग्रेस नेता, कार्यकर्ता रुक गए हैं। देशभर का मीडिया भी शहर में पहुंचा गया है। अब स्थिति यह हो गई है कि होटल संचालक आने वालों को हाथ जोड़कर मना कर रहे हैं। कई कांग्रेस नेता अब रुकने के लिए नीमच, रतलाम व जावरा की तरफ जा रहे हैं।

6 जून को किसान संगठनों की श्रद्घांजलि सभा और फिर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की सभा में सुरक्षा व्यवस्था के लिए प्रशासन ने पहले से ही कुछ होटलों में कमरे बुक कर लिए थे। धर्मशालाओं, स्कूल और कॉलेज में भी सुरक्षा बलों को ठहराया गया है। रप्रदेशभर से कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता एवं पदाधिकारी भी मंगलवार को मंदसौर आ गए। किसान आंदोलन को देखते हुए प्रशासन ने शहर की प्रमुख होटलों में कमरे बुक किए थे। जिसमें वरिष्ठ अफसर ठहरे हैं। अब कांग्रेस के नेता भी होटलों में पहुंचे हैं। शहर एवं आसपास लगभग 30 से अधिक होटल एवं लॉजे हैं। इनमें मौजूद लगभग 500 कमरों में सुरक्षा व्यवस्था से जुड़े अधिकारी और राहुल गांधी की सभा के लिए कांग्रेसी ठहरे हैं।

एक फार्म पर ले रहे हैं जानकारी

किसान आंदोलन से पहले ही प्रशासन ने होटल-लॉज संचालकों को हिदायत दी थी कि किसी भी व्यक्ति को बिना पहचान के नहीं ठहराए। इसके पालन में होटल संचालक भी सुरक्षा बरत रहे हैं। होटल-लॉजों में आने वाले अन्य लोगों की पहचान की जानकारी एक फार्म पर ली जा रही है दस्तावेज भी जांचे जा रहे हैं। स्टेशन रोड स्थित होटल सम्राट के संचालक राजेश राठौर ने बताया कि बिना दस्तावेज जांच के किसी को होटल का रूम नहीं दे रहे हैं। लेकिन अभी किसान आंदोलन के कारण आम लोग तो आ ही नहीं रहे हैं। हमारी होटल के 5 कमरे 25 मई से 15 जून तक के लिए प्रशासन ने बुक करवाएं है, जिसमें सुरक्षा के लिए आए पुलिसकर्मी ठहरे है। होटल राहुल के घनश्याम कुमावत ने बताया कि होटल में 5 दिनों से ग्राहक कम ही आ रहे हैं लेकिन जो भी आते हैं उनकी जानकारी की पूरी डिटेल ले रहे हैं। रेलवे स्टेशन रोड स्थित होटल रितुवन के संचालक सुनील मेहता ने बताया कि होटल में कमरे ही कम पड़ गए है। कई लोगों को सुबह से अभी तक ना कर चुके हैं।

प्रदेश कांग्रेस के सभी वरिष्ठ नेता मंदसौर में

जानकारी के अनुसारप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ, वरिष्ठ नेता दिग्विजयसिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, अजयसिंह, कांतिलाल भूरिया सहित प्रदेश के करीब 50 से अधिक वरिष्ठ नेता आएंगे। इसके चलते उनके समर्थक नेता व कार्यकर्ता भी अपने-अपने साधनों से मंगलवार को ही आना शुरु हो गए है।

सुरक्षा में 6 आईपीएस, 10 एड. एसपी रेंज के अफसर तैनात

किसान आंदोलन में सुरक्षा व्यवस्था के लिए 1 हजार से अधिक का फोर्स तैनात किया गया है। सीएसपी राकेश मोहन शुक्ला ने बताया कि सुरक्षा बलों के लिए होटल ऋतुवन, मोटल व अन्य होटलें सहित संजय गांधी उद्यान परिसर, धर्मशालाएं, कुछ स्कूलों एवं कॉलेजों में ठहरने की व्यवस्था की गई है। सुरक्षा बल में 6 आईपीएस, 10 एड.एसपी, 20 से अधिक डीएसपी रेंज के अधिकारी, 50 से अधिक इंस्पेक्टर और 800 से अधिक का बल है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts