Breaking News

बैंक पर जड़े ताले तो तहसीलदार पहुंचे 1 करोड़ रुपए लेकर

पिपलिया स्टेशन/नारायणगढ़। सोमवार को जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक नारायणगढ़ शाखा द्वारा किसानों को महिना भर हो जाने के बाद भी रुपए नही दिये जाने के विरोध में कांग्रेसजनों ने किसानों के साथ चक्काजाम कर बैंक पर ताले जड़ दिये। प्रातः 11 बजे शुरु हुआ चक्काजाम दोपहर 2 बजे तक चला। बाद में तहसीलदार, बैंक कर्मियों के साथ 1 करोड़ रुपए लेकर पहुंचे, तब जाकर चक्काजाम हटा। जानकारी के अनुसार पिछले एक माह से रुपए को लेकर किसान जिला सहाकरी केन्द्रीय बैंक की नारायणगढ़ शाखा के चक्कर लगा रहे थे, जमा राशि, ऋण, कृषि मंडी के चेक का भुगतान किसानों को नही किया जा रहा था। सोमवार को किसानों की सब्र का बांध टूटा और वे आक्रोशित हो गए।
कांग्रेस नेता जोकचन्द्र ने संभाली कमान, चिलचिलाती धूप में किसानों के साथ बैठे धरने पर:- समिति चौराहे पर चक्काजाम कर दिया, चक्काजाम की कमान कांग्रेस नेता श्यामलाल जोकचन्द्र ने संभाली, जोकचन्द्र के साथ ही ही चिलचिलाती धूप में कांग्रेस नेता अनिल शर्मा, नारायणगढ़ नगर कांग्रेस अध्यक्ष सुनील दिवाणिया, पार्षद दिलीप यादव, रामचन्द्र करुण, भूपेन्द्र महावर, भोपालसिंह, सोनू आर्य, महेश कारपेंटर, बाबू खां मेवाती, अफसर मंसूरी, सुन्दरलाल परिहार, प्रवीण चन्दावत, नरेन्द्र डाका, महेश परिहार सहित किसान व कांग्रेसजन चक्काजाम कर धरने पर बैठ गए व प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। जोकचन्द्र ने कहा प्रदेश की भाजपा सरकार के राज में किसान दुःखी है, अपनी ही जमा राशि निकलवाने के लिए किसानों को बैंकों के चक्कर काटना पड़ रहे है। केन्द्र व प्रदेश सरकार मनमाने निर्णय लेकर किसान व आमजन को परेशानी में डाल रहे है। जोकचन्द्र ने कहा किसान आज संकट के दौर से गुजर रहा है, लेकिन उसकी कोई सुनने वाला नही है, मल्हारगढ़ विधानसभा क्षेत्र में किसानों के साथ अन्याय-अत्याचार बर्दाश्त नही होगा, किसान अकेला नही समझे, कांग्रेस पार्टी हर मोर्चे पर डटकर मुकाबला करेगी। इस मौके पर नारायणगढ़ टीआई एफएल बौरासी जाप्ते के तैनात रहे।
बैंक पर लगाए ताले तो मंगवाए 1 करोड़ रुपए:- चक्काजाम के बाद भी जब बैंक प्रबंधन व प्रशासन ने कोई ध्यान नही दिया तो जोकचन्द्र ने चेतावनी दी कि अगर आधे घंटे में 1 करोड़ रुपए की किसानों के लिए व्यवस्था नही हुई तो आंदोलन और उग्र होगा और बैंक पर ताले जड़ दिये व गेट पर ही धरना लगाकर बैठ गए। सूचना पर तहसीलदार पारस कुंहारा जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के कर्मचारियों के साथ 4 बैग में 1 करोड़ रुपए लेकर आए तब जाकर किसानों व कांग्रेसजनों का गुस्सा शांत हुआ, बैंक का ताला खोला, बाद में बैंक प्रबंधन ने किसानों को भुगतान करना शुरु किया।
कई किसान हो रहे थे परेशान:- जिला सहाकारी केन्द्रीय बैंक नारायणगढ़ शाखा प्रबंधन की हठधर्मिता के चलते सैकड़ों किसान परेशान हो रहे थे। नारायणगढ़ की सज्जनबाई पति कुशालचंद परुलिया, गोपालपुरा के मुरली पिता कृष्णा चौहान, हरसोल के तुलसीराम पिता दयाराम धोबी, फतेहपुर के दशरथ पिता बापूलाल चौहान व भागीरथ पिता वाला मेघवाल, कचनारा के नंदकिशोर बद्रीलाल मेघवाल सहित सैकड़ों किसानों बैंक से राशि निकलवाने के लिए पिछले 1 माह से चक्कर काट रहे थे।
किसानों ने किया सम्मान:- राशि मिलने के बाद किसानों ने खुशी का इजहार किया। उन्होंने तहसीलदार पारस कुंहारा व कांग्रेस नेता श्यामलाल जोकचन्द्र का माला पहनाकर सम्मान किया।

Post source : ऋतिक शर्मा(लुनाहेडा) पिपलिया मंडी जिला मन्दसौर

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts