Breaking News

भाजपा की नपा परिषद् क्या फिर भी करेगी कांग्रेस के पूर्व सांसद को भुगतान जेबे कटी, पेट्रोल हुआ चोरी, बाईकें भी गई

पत्थरबाजी से आम दर्शक के साथ पुलिस जवान भी घायल

मंदसौर निप्र। नपा द्वारा आयोजित भगवान श्री पशुपतिनाथ मेले में मंगलवार की रात्रि को जो हुआ उससे हर कोई इस आयोजन को लेकर भाजपा की नपा परिषद् को ही कोस रहा है। मेला समिति ने मेले के सांस्कृतिक मंच पर कांग्रेस के पूर्व सांसद व फिल्म अभिनेता गोविन्दा को साढ़े ग्यारह लाख रूपये में मंच पर बुलाया था। हालांकि मेला समिति ने गोविन्दा को राजनेता की हैसियत से नहीं बल्कि फिल्म अभिनेता की हैसियत से इसलिये बुलाया था कि वे मंदसौर जिले की जनता के समक्ष आकर्षक प्रस्तुतियॉ देगे। लेकिन मेला समिति के अनुबंध के अनुसार कोई भी कलाकार अपने निर्धारित समय से कम समय मेले के मंच पर देगा उसका भुगतान नपा परिषद् नहीं करेगी। अब यह देखना है कि अनुबंध के अनुसार नपा राजनेता व फिल्म अभिनेता गोविन्दा को बाकी भुगतान करती है या नहीं। गोविन्दा तो 24 मिनिट प्रस्तुति देकर निकल गये और नगर में विवादों को छोड़ गये। नो सेल्फी झोन में खूब सेल्फीयॉ भी ली गई जिसमें सुरक्षा में लगे कई पुलिसकर्मी भी शामिल थे। जिस पर बुधवार को एसपी मनोज सिंह ने कार्यवाही भी की।

उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष मेले में जो भी सेलिब्रेटी प्रस्तुति देने आयें थे उनके साथ नेताओं व अधिकारियों की सेल्फी बडी चर्चा में रही थी। जिसके बाद इस वर्ष नगर पालिका ने सांस्कृतिक मंच को नो सेल्फी झोन करार दिया था। लेकिन गोविन्दा के कार्यक्रम में सारे ही नियम कायदे टूटते हुए नजर आये स्वयं पुलिसकर्मी भी गोविन्दा के साथ सेल्फी लेने में मशगूल रहे। जिसके चलते व्यवस्था पूरी तरह ध्वस्त हो गई। यही नहीं इस ध्वस्त व्यवस्था के बीच हुई पत्थरबाजी से आम दर्शक तो चोटिल हुए ही वहीं एक पुलिस जवान गंभीर रूप से घायल भी हुआ है।

मिली जानकारी के अनुसार शो के स्टेज पर अत्यधिक भीड़ होने की वजह से गोविन्दा स्टेज की गिरते गिरते बच गये। पुलिसकर्मी भी अपनी ड्यूटी भूलकर सेल्फी में लेने में लग गये जिसके चलते भीड़ होने के बावजूद भी पुलिस व्यवस्था चरमरा गई और स्वयं एसपी मनोज सिंह को डंडा लेकर व्यवस्था संभालनी पड़ी। लेकिन उनके ही अधिनस्थ अधिकारी गोविन्दा के प्रति अपना प्रेम छीपा नहीं सके और मंच पर ही सेल्फी लेने लगे।

सेल्फी लेने वाली एसआई इक्का पर गिरी गाज
गोविन्दा के कार्यक्रम में यंू तो कई पुलिसकर्मी सेल्फी लेने मे लगे हुए थे। लेकिन वायडी नगर थाने में पदस्थ एसआई रीना इक्का का भीड़ को नियंत्रित नहीं करने और गोविन्दा के साथ सेल्फी लेते हुए विडियो बुधवार को सोशल मिडिया पर खूब वायरल हुआ जिसके बाद बुधवार दोपहर को एसपी मनोज सिंह ने रीना इक्का तबादला गरोठ थाने पर कर दिया।

लापरवाही बरतने वाले सभी पुलिसकर्मीयों पर होगी कार्यवाही – एसपी श्री सिंह

लापरवाही बरतने वाले सभी पुलिसकर्मीयों पर होगी कार्यवाही – एसपी श्री सिंहपुलिस अधिक्षक मनोज सिंह ने बताया कि मंगलवार को मेले में अपनी ड्यूटी ठीक तरीके से नहीं करने पर एसआई रीना इक्का का तबादला किया गया और उनकी जॉच भी कि जा रही है इसी तरह और अन्य लापरवाह पुलिसकर्मीयों पर भी कार्यवाही की जायेगी।

खूब कटी जेबे,पेट्रोल हुआ चोरी 

फिल्म अभिनेता गोविन्दा के कार्यक्रम में आये दर्शकों की जेबों पर भी जेबकतरों ने खूब हाथ अजमायें। यहीं नहीं परिसर में खड़ी बाईकों में से खूब पेट्रोल चुराया गया। हालांकि किसी ने भी शहर कोतवाली में कोई प्रकरण दर्ज नहीं किया है।

बाईके भी हुई चोरी

कार्यक्रम के दौरान लगभग 8 से 10 बाईकों के चोरी होने की खबरें भी आ रही है। लेकिन शहर पुलिस का कहना है कि मेला स्थल से मंगलवार को एक बाईक चोरी होने की का प्रकरण दर्ज हमारे यहॉ दर्ज हुआ है।

एक मिनिट के 50 हजार रू. देकर ठगा शहर को – श्रीमती खिंची

फिल्म स्टॉर गोविन्दा मात्र 22 मिनिट के शो में शहर की जनता के गाड़ी कमाई के 11 लाख रूपये नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार व सीएमओ सविता प्रधान द्वारा बर्बाद करने का काम किया है। मेले में जिस उमंग के साथ शहर व आसपास क्षेत्र के जनता गोविन्दा के कार्यक्रम को देखने आये थे उन्हें निराशा ही हाथ लगी। इतनी बड़ी रकम के बावजूद मात्र 22 मिनिट में ही गोविन्दा अधूरा कार्यक्रम करके मंच छोड़कर चले गये। याने प्रति मिनिट 50 हजार का नुकसान मंदसौर के आम नागरिकों का हुआ है। 55 लाख रूपये बर्बाद करने के बाद जनता को मिले लाठी-डंडे – विजय गुर्जर नपा के कांग्रेस पार्षद विजय गुर्जर ने कहा कि मुख्य नगरपालिका अधिकारी सविता प्रधान के पति फिल्म लाईन से जुड़े होने के कारण उनका हस्तक्षेप सांस्कृतिक कार्यक्रमों में पर्दे के पीछे से पुरी तरह रहा उसके बाद भी मेले में सांस्कृतिक कार्यक्रमों में भ्रष्टाचार का खुला खेल खेला गया। साथ ही इन कार्यक्रमों ने शहर की जनता को पुरी तरह निराश और अपमानित किया है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts