Breaking News

भारत का संविधान जलाने वाले असामाजिक तत्वों पर देशद्रोह का प्रकरण दर्ज हो

मन्दसौर। डॉ. अम्बेडकर जागृति मंच जिला इकाई मन्दसौर द्वारा महामहिम राष्ट्रपति के नाम एक ज्ञापन कलेक्टर प्रतिनिधि डिप्टी कलेक्टर रोशनी पाटीदार को देकर जंतर मंतर नई दिल्ली में 9 अगस्त को भारत के संविधान जलाने, अम्बेडकर मुर्दाबाद के नारे लगाने एवं अजा, अजजा, पिछड़ा वर्ग आरक्षित समाज के खिलाफ नारेबाजी करने वाले असामाजिक तत्वों  के खिलाफ अपराधिक प्रकरण पंजीबद्ध करने की मांग की गई।  ज्ञापन का वाचन करते हुए जिलाध्यक्ष गणपत तेनीवार ने बताया कि 9 अगस्त को जंतर मंतर नई दिल्ली पर भारत का संविधान की प्रतियां जानबुझकर योजनाबद्ध तरीके से कुछ असामाजिक ततत्वों द्वारा भारत के संविधान को जलाया गया साथ ही अम्बेडकर मुर्दाबाद के नारे  लगा गये एवं अनुसूचित जाति, जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग आरक्षित समाज के खिलाफ नारेबाजी की गई। यह कृत्य विधि विरूद्ध होकर असामाजिक तत्वों के देशद्रोह का अपराध बनता है। इस अवसर पर डॉ. अम्बेडकर जागृति मंच के प्रदेश संयोजक रामलाल लोदवार, संरक्षक के.सी. सौलंकी, जिलाध्यक्ष गणपत तेनीवार, अपाक्स कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष चेतन गन्छेड़,  मेघवाल समाज संघ के युवा अध्यक्ष पवन रैदास, अमर शहीद उधमसिंह जन मंच के अध्यक्ष नागेश्वर सूर्यवंशी, अ.भा. वाल्मिकी महासभा के राष्ट्रीय सचिव जीवन गोसर सहित अनेक विभिन्न संगठनों के पदाधिकारी एवं सदस्य उपस्थित थे।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts