Breaking News

भारत पर्व पर मंदसौर में हाई वाल्‍टेज ड्रामा !

गणतंत्र दिवस पर गुरुवार शाम को संजय गांधी उद्यान में हुए भारत पर्व में संबोधन और नृत्य तक तो सब ठीक रहा। बाद में गणमान्य लोगों, पत्रकारों, अधिकारियों व कर्मचारियों को सम्मानित करने की बारी आई। कुछ देर तो सब ठीक-ठाक चलता रहा। बाद में जैसे ही मंदसौर जनपद पंचायत के सीईओ का नाम पुकारा गया तो वहां अतिथि जपं अध्यक्ष शांतिलाल मालवीय भड़क गए। और कलेक्टर से कहा कि जिन पर भ्रष्ट आचरण के आरोप लगे हैं, आपके ही अधिकारी जांच कर रहे हैं, उनका सम्मान कैसे हो सकता है। यह कहते हुए वे मंच छोड़कर चले गए।

संजय गांधी उद्यान के पं. मदनलाल जोशी सभागृह में भारत पर्व के तहत गुरुवार शाम को विभिन्न कार्यक्रम हुए। स्कूलों की प्रस्तुतियों के बाद पुरस्कार वितरण शुरू हुआ। जिपं अध्यक्ष प्रियंका गोस्वामी, विधायक यशपालसिंह सिसौदिया, नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार, जपं अध्यक्ष शांतिलाल मालवीय,कलेक्टर स्वतंत्र कुमार सिंह सहित अन्य अतिथि मौजूद थे। कार्यक्रम में कुछ लोगों का सम्मान करने के बाद संचालन कर रहे सामाजिक न्याय विभाग के उप संचालक डॉ. जेके जैन ने मंदसौर जपं के सीईओ डीएस मसराम का नाम पुकारा। उनका नाम आते ही जपं अध्यक्ष मालवीय भड़क गए। उन्होंने कहा कि जिन पर भ्रष्ट आचरण की जांच चल रही है। उनके नाम कैसे आ गए। मंदसौर जनपद सीईओ मसराम पर अनियमितता के आरोप की चार शिकायतें हैं, कमिश्नर के यहां जांच चल रही है। एक जांच समिति में खुद डॉ.जेके जैन, एसडीएम व जिपं के अधिकारी मंडेरिया हैं। ऐसे में उनका सम्मान कैसे हो रहा है। अगर यही आपकी पॉलिसी है तो हम यहां से चले जाते हैं और वह मंच छोड़कर नीचे आ गए। जपं सीतामऊ के सीईओ पीसी पाटीदार पर भी अनियमितता के आरोप लगे हैं और उनका भी सम्मान किया गया।

मैं तो दूर था कलेक्टर स्वतंत्र कुमार सिंह ने बताया कि वहां जो भी हुआ मेरे संज्ञान में नहीं है। अध्यक्ष क्यों नाराज हुए थे मैं तो मंच से दूर खड़ा था।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts