Breaking News

भारी वाहनो को रोकने में असफल यातायात विभाग आमजन परेशान, किसी बड़े हादसे का इंतजार

मन्दसौर निप्र। नगर के घनी आबादी वाले क्षेत्र नयापुरा रोड़ जो कि ट्रको के आवागमन के लिये प्रतिबंधित रोड़ है इस रोड़ के लिए काफी समय से ट्रको के आने को लेकर समय – समय पर कई लोगो इस बात का विरोध किया एवं कई बार अखबारो में चि़त्रो व समाचारो के माध्यम से इस नगर के जिम्मेदारो को आम जनता को होने वाली परेषानी के बारे मे बताया गया लेकिन कभी भी जनभावना की इस आवाज पर कार्यवाही नही हुई।
इन ट्रको के आवागमन को प्रतिबंधित करने को लेकर केवल बन्द कमरो मे ही मिटिंग होती है लेकिन हकीकत मे धरातल पर कोई कार्यवाही आज तक नही हुई ।
अभी कुछ महिनो पहले माहेष्वरी धर्मषाला के सामने ट्रक के पहीये के नीचे स्कूटी से जा रही एक महिला का गिरने से हाथ आया अब क्या प्रषासन के जिम्मेदार ट्रक के नीचे सिर आने का इंतजार कर रहे है । षायद किसी बड़े बलिदान की प्रतिक्षा में है इस नगर के जिम्मेदार।
इन बड़े व टनो वजनी ट्रको के लायक न तो यह रोड़ है और ना ही नयापुरा रोड़ का डामरीकरण भी नही है। जिसके कारण ट्रको के निकलने पर कम्पन होने से यहां मकानो मे दरारे पड़ने लगी है । देर रात को जब यह ट्रक निकलते है तो घरो के खिड़की दरवाजे कम्पन करने की आवाज आती है । वैसे भी इन ट्रको के दिन भर आवागमन के कारण नयापुरा रोड़ पर दिन मे कई बार जाम लगता है और जाम मे फंसी आम जनता परेषान होती रहती है। ऐसे मे अगर किसी गम्भीर मरीज को एम्बुलेंस ले जा रही हो और वह इस जाम मे फंस जाये तो आप कल्पना कर सकते है। आज पुरा मन्दसौर नगर ट्रांसपोर्ट नगर बना हुआ है मन्दसौर में मुख्य पोस्ट आफीस के सामने, नयापुरा रोड़ पर लक्कड़ पीठा में, कालाखेत में, षुक्ला चौक में आदि ऐसे कई स्थानो पर आपको ट्रक खडे हुए या खाली होते हुए नजर आ जायेगे।
लेकिन इन ट्रको के लिए नगर मे ट्रांसपोर्ट नगर बना हुआ है जो केवल नाम का रह गया । नयापुरा रोड पर डॉ. एस.एम. जैन के सामने ट्रको के आवगमन को प्रतिबंधीत करने का बोर्ड भी लगा है लेकिन वह केवल ओपचारिक बन कर रहा गया है।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts