Breaking News
भोले के दरबार में सजा 56 क्विंटल का 56 भोग का नैवेद्य : भगतों को बंटा नैवेद्य का प्रसाद

भोले के दरबार में सजा 56 क्विंटल का 56 भोग का नैवेद्य : भगतों को बंटा नैवेद्य का प्रसाद

Story Highlights

  • शिखर पर चढाई ध्वजा, महारूद्राभिषेक, हवन, भव्य आरती हुई
  • दिनभर हुए अनेक आयोजन, धर्मालुजन दर्शन के लिये उमड़े

मंदसौर निप्र। रविवार को अखण्डमण्डलाकारी, त्रिनेत्रधारी, अष्ठमुखी, भूतभावन, भगवान पशुपतिनाथ महादेव के दरबार में परम्परानुसार इस वर्ष भी प्रातःकालीन आरती मण्डल के तत्वाधान में महारूद्राभिषेक के साथ 56 क्विंटल का 56 भोग का नैवेद्य 1001 थाल में सजा कर भगवान को भोग लगाया गया। सुबह से ही असंख्य भक्तों का सैलाब दर्शन करने और विविध आयोजनों में भाग लेने के लिये उमड़ पड़ा। देर शाम यहां भजन संध्या भी हुई।

भगवान श्री पशुपतिनाथ महादेव प्रातः कालीन आरती मण्डल के संरक्षक पं दिलीप शर्मा, अध्यक्ष एवं नपाध्यक्ष प्रहलाद बंधवार, प्रवक्ताद्वय जगदीश पुरूसवानी, उमेश परमार ने बताया कि प्रातः 9 बजे से विद्वान पण्डित सदाशिव जी एवं डाॅ पं देवेन्द्र दुर्गाशंकर शर्मा धारियाखेड़ी वाले के मार्गदर्शन में आचार्य  पं राकेश भट्ट एवं उज्जैन से पधारे पं आदित्य शर्मा,पं कमलेश शर्मा,पं अकित शुक्ला एवं चित्रकुट से पधारे पं जयकृष्ण मिश्रा एवं 51 पण्डितों की मण्डली द्वारा पूजन अर्चन शुरू करवाया गया। पूरे मंदिर परिसर में मंत्रोच्चार की गूंज सुबह से ही गूंजायमान होती रही।  जिसके पश्चात महारूद्रीपाठ के साथ अभिषेक शुरू हुआ, जिसमें यजमान ज्योतिप्रकाश जाजपुरिया, अजय बसेर, विनोद काबरा, राम राठौर, बंशीलाल राठौर ने सपत्नीक रहे। भगवान का दूध, दही, घी, शक्कर, शहद से बने पंचामृत एवं भांग से भगवान आशुतोष का अभिषेक किया। अभिषेक के दौरान मंदिर परिसर स्थित सभी मंदिरों के शिखर पर विशाल ध्वजा भी चढ़ाई गई, इसके पश्चात हवन शुरू हुआ, जिसमें यजमान सुशील अग्रवाल, संजय रावल, के सी जोशी, प्रभु सिंह राजपुरोहित, जितेन्द्र व्यास, जयदेवसिंह चैहान, अजय बसेर, अमित मसानियाॅ रहे। दोपहर 1ः30 बजे पूरे मंदिर परिसर को शुद्ध जल से साफ किया गया और भगवान का अबीर, गुलाल, कंकु, अक्षत एवं विशेष आंकड़ो, गुलाब एवं आकर्षक फूलों से श्रंगार तो किया गया साथ ही भगवान श्री पशुपतिनाथ के ललाट पर भांग से लेप लगाकर चारो मुखों पर जिसमें ओम, कलश, राम, स्वास्तिक की आकृति बनाई गई। इसके पश्चात् भव्य 56 क्विंटल का 56 भोग का नैवेद्य थाल में सजाकर गर्भगृह में लगाया गया। तत्पश्चात महाआरती हुई जिसमे सैकड़ों धर्मालुजन शामिल हुए और प्रसाद ग्रहण किया।

इन मिठाईयों ने बढ़ाई शोभा:- मण्डल प्रवक्ता जगदीश पुरूसवानी, उमेश परमार ने बताया कि नैवेद्य में इस वर्ष यह मिठाईयाॅं मुख्य रूप से बनाई गई है। जिसमें मक्खन बड़ा, केसर रोल, मोहनथाल, चन्द्रकला, मोतीपाक, मैसूरपाक, ईमरती, खोपरापाक, काला जामून, भांग पेड़े, मटेड़ी, घेवर, मालपूए, रबड़ी, मीठी कचैरी, बेसन चक्की, उड़द की फिनी, सलामी पेड़े, बेसन पपड़ी, अजवाईन पपड़ी, खट्टा-मिट्ठा मिक्चर, खीर, पुड़ी, दाल, बीड़े सहित 15 तरह के छोटे बड़़े लड्डू बनाये गये। साथ ही भांग के विशेष पेड़े भी बनाये गये।

भजन संध्या भी हुई:- महाआरती के पश्चात् मंदिर परिसर मे ही भव्यतम मंच बनाकर भजन संध्या का आयोजन भी शुरू हुआ। खाटूश्याम मित्र मण्डल की भजन संध्या में आये गायकों ने एक के बाद एक कर्णप्रिय भजन गाकर भक्तों को नाचने पर मजबुर कर दिया। महिलाओं और युवतियों ने गरबा नृत्य भी किया। वहीं बड़ी संख्या में धर्मालुजनों ने भजनों को सुनकर आनंद प्राप्त किया।

आयोजन में इनकी भागीदारी – आरती मंडल के प्रहलाद बंधवार, पं दिलीप शर्मा, बंशीलाल काबरा, विष्णु नारायण कश्यप, पं विजय शर्मा, राजेन्द्र हेडा, ज्योति जाजपुरिया, लोकेन्द्र भटनागर, लोकेन्द्र कुमावत, राजू लालवानी, संजू तुगनावत, परशुराम शर्मा, सुरेन्द्र चैहान (गोटू), चन्द्रप्रकाश शर्मा (छोटू),शैलेन्द्र सिहं राठौर, नारायण पालीवाल, जितेन्द्र व्यास, तेजसिंह गेहलोत, सुनिल जैन महाबली, मुकेश खमेसरा, डाॅ गोपाल व्यास, राम राठौर, विक्की गौसर, राजेश राठौर, बाबु गुर्जर, सूरज बैरागी, केसी जोशी, अमृतकुमार पोरवाल, ओम गुप्ता, गज्जू साहू, स्नेहिल शर्मा, कमलेश सिसौदिया, अशोक लवाणी, किशन व्यास, अजय बसेर, अशोक मोरधानी, राजू परमार, हर्ष नारायण कश्यप, मनजीत सिंह जेठडा, प्रफुल्ल यजुर्वेदी, जयदेव सिंह चैहान,महावीर प्रकाश अग्रवाल, दिलीप पालीवाल,जगदीश पालीवाल,दिनेश पालीवाल,राजू सतीदासानी, हिम्मत लोढा, सुशील गुप्ता, सुनिल पालीवाल,पप्पू चंदवानी, अंकित हेड़ा, शानवैराज राठौर, प्रवीण शर्मा, आदित्य मारोठिया, सुरेश होतवानी, संजय झावा, आशीष गुप्ता, किशोर शास्त्री, विजय पलोड़, भरत कश्यप, बालकृष्ण कुमावत, सन्नी गौसर, निर्मल टांडी, सोनू गोस्वामी, लाल नैक्स्, प्रवीण कुमावत, मैक कुमावत, सुनिल कुमावत, धर्मेन्द्र राठौर, राजेश मंडवारिया, विनोद अग्रवाल, मिथुन वप्ता, रामू बतमी, अनिल सोनी, योगेश जोशी, कुणाल कश्यप, शांतिलाल सोनी, प्रकाश हिरानी, अजय बसेर, विनोद अग्रवाल, जगदीश पालीवाल, शांतिलाल पालीवाल, किशन व्यास, योगेश गुप्ता, रितेश भगत, कोमल माली, वासुदेव मनकानी, प्रकाश हिरानी, सत्यनारायण झंवर,नरपतसिंह हरीसिंह,अनिल मसानिया, श्याम भावसार, श्याम पण्डित, संजय रावल, अशोक सन्दरसिया आइका, दिनेश ग्वाला, महेश परमार, रवि अग्रवाल, दिनेश सेवानी, सरवेश्वर, चैधरी, नीरज, दिव्यांक सोनी, प्रंजाल शर्मा, शुभम अग्रवाल, दशरथ,उमेश परमार,जगदीश पुरसवानी आदि ने आयोजन में भाग लेकर भव्य बनाने की अपील की।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts