Breaking News

भ्रष्ट अधिकारी की जानकारी देने वालों को 1 लाख रुपए इनाम : शिवराज

भानपुरा (मंदसौर)। अगले साल विधानसभा चुनावों की तैयारियों में मप्र विकास यात्रा की शुरुआत करते हुए मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने भानपुरा में कहा कि अब मध्यप्रदेश में भ्रष्टाचार सहन नहीं किया जाएगा। भ्रष्ट अधिकारी-कर्मचारियों को बर्खास्त किया जाएगा। साथ ही इन्हें बताने वाले को 1 लाख का पुरस्कार भी दूंगा।

इसी तरह ईमानदारी से अच्छे कार्य करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को गले लगाकर सम्मानित भी करूंगा। मप्र सरकार शीतकालीन सत्र में विधेयक लाएगी, जिसमें बधिायों, लड़कियों व महिलाओं के साथ व्यभिचार और अश्लीलता करने वाले अपराधियों को फांसी की सजा का प्रावधान रहेगा।

वे बुधवार को यहां लगभग 6 अरब रुपए की योजनाओं के लोकार्पण व भूमिपूजन पर बोल रहे थे। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर चंबल नदी से नहर द्वारा रेवा नदी में पानी डाले जाने की भानपुरा नहर परियोजना का लोकार्पण किया। साथ ही गरोठ-भानपुरा क्षेत्र के लिए सूक्ष्म सिंचाई योजना का भूमिपूजन किया।

इसके अलावा शामगढ़-सुवासरा तहसील के लिए 800 करोड़ की सिंचाई योजना को स्वीकृत करने की घोषणा भी की। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस को विकास दिखाई नहीं देता है। मैं आज भी अपनी बात पर कायम हूं कि मप्र की कई सड़कें अमेरिका से अच्छी हैं। और हमारा प्रदेश कई क्षेत्रों में अमेरिका से आगे हैं। इसे कांग्रेस स्वीकार नहीं कर रही है, जिनकी आंखों में गुलामी का चश्मा लगा हो उन्हें मप्र का विकास दिखाई नहीं देता है।

शामगढ़-सुवासरा तहसील के लिए 800 करोड़ रुपए की सिंचाई योजना से गरोठ, शामगढ़ व सुवासरा तहसील के 189 गांव लाभान्वित होंगे और इस क्षेत्र की 40 हजार हेक्टेयर भूमि सिंचित होगी। शिवराजसिंह के शब्दकोश में असंभव शब्द नहीं है।

भानपुरा पहला क्षेत्र बना, एक नदी का पानी दूसरी नदी में डाला

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि दुनिया और पूरे भारत में भानपुरा पहला ऐसा क्षेत्र है जहां एक नदी का पानी दूसरी नदी में मिलाकर सिंचाई योजना प्रारंभ की गई है। चंबल का पानी आज से रेवा नदी में मिल गया है, यह ऐतिहासिक क्षण है। इन सिंचाई योजनाओं से 126 गांव की 37 हजार हेक्टेयर भूमि सिंचित होगी। 57 वर्षों पहले गांधीसागर बांध के लिए इस क्षेत्र ने बहुत बड़ा बलिदान दिया था। पहली बार मंदसौर जिले को इसका लाभ मिलेगा। पूरा क्षेत्र चंबल के पानी से सिंचित होगा और पेयजल भी उपलब्ध होगा।

केबल में उलझा सीएम का पैर, विधायक ने संभाला

भानपुरा में कार्यक्रम के दौरान जब सीएम शिवराजसिंह चौहान मंच से लोगों का अभिवादन करने दूसरे कोने जा रहे थे, तभी एक स्पीकर के यहां केबल में उनका पैर अटका और हल्की-सी ठोकर लगने के साथ वे लड़खड़ाए। इस दौरान साथ चल रहे मंदसौर विधायक यशपालसिंह सिसौदिया ने उन्हें पकड़कर सहारा दिया। हालांकि सीएम तत्काल संभल गए।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts