Breaking News

मंगलवार को अचानक जिला अस्पताल पहुंचे कलेक्टर

मंदसौर । कलेक्टर धनराजू एस ने सोमवार को चार्जलेने के बाद सबसे पहले मंगलवार को जिला अस्पताल का रुख किया। सुबह 10 बजे यहां पहुंचे और दोपहर 1 बजे यहां से निकलें। ढाईघंटें में कलेक्टर ने जिला अस्पताल की नब्ज टटोली और एक-एक बिंदु की जानकारी लेते हुए फोकस किया।क्रिसमस के अवकाश के दिन उन्होंने लंबा समय अस्पताल में गुजारा। सिविल सर्जन और सीएचएचओ से उन्होंने विभागीय योजनाओं से लेकर यहां के इंफ्राटेक्चर के अलावा परिसर के अलावा लंबित प्रोजेक्ट की जानकारी भी ली।कलेक्टर भोपाल में पहले स्वास्थ्य विभाग में रह चुके है। ऐसे में निरीक्षण के दौरान हर एक मुद्दे पर वहां के अनुभव के आधार पर बात करते दिखे और भोपाल में आला अधिकारियों व कर्मचारियों से फोन पर चर्चाकर जिले के बारें में जानकारी लेते रहे।यहां उन्होंने मरीजों से चर्चा भी की तो कुछ मरीजों ने यहां उपचार को लेकर शिकायत की। पूरे समय वह मीडिया से दूर बनाते हुए दिखें।

हर जगह पहुंचे जानी सुविधाएं व संसाधनों की स्थिति
सुबह यहां पहुंचते ही कलेक्टर यहां दिखे मरीजों से करीब १५ मिनट चर्चा की। इस पर मरीजों ने शिकायत की। इसके बाद वह इमरजेंसी से लेकर ओपीडी तक पहुंचे। १०.३० बजे एक्सरे, सोनोगा्रॅफी के बाद ११ बजे ब्लड बैंक, मेटेनटी के साथ जनरल वार्डो में पहुंचे आयुष्मान योजना के कार्यालय में पहुंचकर योजना की जानकारी भी ली और निरीक्षण किया। दोपहर १२ बजे बाद विभाग के अधिकारियों के चैंबर में पहुंचे और ऑफिस से लेकर पूरे अस्पताल से जुड़े रिकॉर्ड को देखा और स्टॉफ व डॉक्टरो के पदो की जानकारी ली। दोपहर १२.३० बजे जिला अस्पताल के बाहर क्षेत्र में स्थित स्टॉफ क्वार्टर क्षेत्र में पहुंचे। यहां दोपहर १ बजे तक निरीक्षण के बाद बाहर निकले। इस दौरान उन्होंने यहां मौजूद सुविधाओं से लेकर संसाधनों की जानकारी ली। दो घंटे तक वह अस्पताल में ही रहे और हर छोटे-बड़े मुद्दें पर चर्चाकी। डॉक्टर की कमी पर उन्होंने कहा कि इस पर पहल करेंगे और सुविधा बढ़ाने की कोशिश करेंगे। इस दौरान स्टॉफ क्वार्टर से लेकर भवन की स्थित के बारें में भी जाना।और कोन से भवन कितने पुराने हैऔरक्या उपयोग हो रहा है। इनके अलावा अन्य मुद्दों की जानकारी भी ली।

सिटी स्कैन, ट्रामा सेंटर पर शुरु होगी पहल, पुराने भवन को तोडऩे के दिए निर्देश
निरीक्षण के दौरान सिटी स्कैन को लेकर जब उन्होंने जानकारी ली तो इसके टैंडर खत्म होने की जानकारी मिली। इस पर उन्होंने भोपाल फोन लगाया और अगले सप्ताह इस मामले में भोपाल से किसी को यहां आने की कहा। इसके साथ ट्रामा सेंटर को लेकर चल रही चर्चाओं के बीच उन्होंने कहा कि जो स्मारक है उसे यहां से किसी अन्य जगह हस्तांतरित करते हुए बेहतर रुप से विकसित करने के साथ यहां ट्रामा सेंटर बनाने की बात कही। इसके अलावा वर्षों पुराना हो चुका रजिया भवन तोडक़र यहां से भी अस्पताल की और एंट्री देने की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। तमाम बिंदुओं की जानकारी लेकर हर चीज देखने के बाद कलेक्टर ने कहा कि अब इसमें सुविधाएं बढ़ाने के लिए काम करेंगे। साथ ही कायाकल्प योजना के तहत अस्पताल को बेहतर प्रदर्शन के लिए काम करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि जो टीम आने वाली है। उसके तहत यहां सभी इंतजाम पूरे होने चाहिए। जिससे अस्पताल को इसमें बेहतर अंक मिल सकें। जो भविष्य में यहां स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने के लिए काम आएगा।

…और पैदल ही चहलकदमी करते हुए निकलें सडक़ पर
फोटो एमएन-२६०८ सडक़ो पर पैदल ही चहल-कदमी करते हुए निकलें कलेक्टर। ढाई घंटे से अधिक समय तक जिला अस्पताल का निरीक्षण करने के बाद कलेक्टर जब बाहर निकले तो उन्हें सडक़ के दूसरी और नपा के पास कपाउंड में बने क्वार्टर व पुराने भवन के साथ यहां रिक्त पड़ी जमीन के बारें में जानकारी दी तो उन्होंने देखने की इच्छा जताई। इसमें अस्पताल के अफसरो ने कहा कि सर गाड़ी लाना पड़ेगी तभी कलेक्टर ने पूछा कितना दूर है तो किसी ने जवाब दिया कि सडक़ के इस और तो कलेक्टर खुद ही चहल-कदमी करते हुए निकले पड़े आधा किमी पैदल चलते हुए पूरा परिसर पार कर सडक़ पर पहुंचे और सडक़ पार करते हुए क्वार्टर कपाउंड में जा पहुंचे। जहां १५ मिनट तक सभी भवनों का निरीक्षण कर इनकी स्थिति की जानकारी ली।

तैलिया तालाब भी निरीक्षण करने पहुंचे
अस्पताल से निकलने के बाद कलेक्टर सीधे तैलिया तालाब पहुंचे। जहां उन्होंने तालाब के किनारों पर घुमकर इसका निरीक्षण किया। साथ ही तैलिया तालाब पर अतिक्रमण से लेकर चल रहे इस मुद्दें की जानकारी ली।इसके अलावा नगर पालिका द्वारा तालाब पर बनाए जा रहे ऋषियानंद कुटिया तक पैदल पुल से लेकर समीप में बन रहे दादा-दादी पार्क के अलावा लाईटिंग व सौंदर्यीकरण के चल रहे अन्य कामों के बारें में जानकारी लेते हुए तैलिया तालाब के इस पूरे प्रकरण को समझा।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts