Breaking News

मंदसौर कांग्रेस कार्यालय मे क्यो आपस मे झगड़े कार्यकर्ता!

मंदसौर । जिला कांग्रेस कार्यालय में गुरुवार शाम को पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन के द्वारा वन-टू-वन कांग्रेस कार्यकर्ताओं से बात की जा रही थी। उसी दौरान मल्हारगढ़ विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेस नेता परशुराम सिसौदिया और श्यामलाल जोकचंद्र भी अपने सर्मथकों के साथ कार्यालय में पहुंचे। इस दौरान दोनोंं समर्थकों के बीच बहस हुई और सिसौदिया समर्थकों ने चुनाव में भीतरघात करने की बात को लेकर जोकचंद्र का विरोध किया। मामला इतना बढ़ गया कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच मारपीट तक हो गई। इसके बाद वहां मौजूद कांग्रेस नेताओं ने मोर्चा संभाला और मामला शांत करवाया। इसके बाद फिर से पूर्व सांसद नटराजन ने वन-टू-वन चर्चा शुरु की। इसके बाद मल्हारगढ़ विधानसभा क्षेत्र के कईकार्यकर्ताओं से अलग से बात पूर्व सांसद नटराजन ने की। हांलाकि कांग्रेस के पदाधिकारी मारपीट की बात से इंकार कर रहे है और विवाद की बात कह रहे है।

हम यहां मार खाने के लिए नहीं आए है 
जैसे ही मल्हारगढ़ विधानसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं से चर्चा करने के लिए पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन कार्यकर्ताओं के बीच पहुंची। वहां पर सुवासरा विधानसभा के नाहरगढ़ के कांग्रेस कार्यकर्ता मांगीलाल लक्षकार ने पूर्व सांसद नटराजन से कहा कि मैं नाहरगढ़ से आया हूं। यहां पर मेरे साथ मारपीट की और एक अन्य सोनगरा के कार्यकर्ता के साथ मारपीटकी। हम यहां मार खाने के लिए नहीं आए है। इसके बाद पूर्व सांसद ने कहा कि ऐसा नहीं होना चाहिए। ऐसा हुआ है तो मैं माफी मांगती हूं। इसके बाद कांग्रेस नेता जोकचंद्र, कमलेश पटेल सहित अन्य नेताओं के द्वारा चुनाव में भीतरघात करने की बात कार्यकर्ताओं ने कही। इसके बाद पूर्व सांसद नटराजन ने कहा कि मुझे मल्हारगढ़, संजीत और धुंधडक़ा ब्लॉक से लिखित में श्यामलाल जोकचंद्र, कमलेश पटेल सहित अन्य के खिलाफ शिकायत मिली है। मैं इसे प्रदेश संगठन की अनुशासन समिति को भेजूगी। इसके बाद फिर से पूर्व सांसद ने कार्यकर्ताओं से चर्चा बंद कमरे में शुरु की और पूरे विधानसभाओं की जानकारी ली। जिले के सभी चारों विधानसभाओं से कार्यकर्ता आए थे। जिनसे पूर्व सांसद नटराजन ने चर्चाकी।

इनका कहना…
नाहरगढ़ कांग्रेस सेवादल के अध्यक्ष मांगीलाल लक्षकार ने बताया कि मैं यहां पर विधायक हरदीप सिंह डंग को मंत्रीमंडल के ले इसकी मांग को लेकर आया था। अंदर बैठे थे उन कार्यकर्ताओं ने मेरे साथ और सोनगरा के कार्यकर्ता के साथ मारपीट की। अजय नागरिया ने कहा कि पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन वन-टू-वन चर्चा कार्यकर्ताओं से कर रही थी इस बीच मेरे साथ पीछे से मारपीट की गई।

ऐसा मामला नहीं आया 
पूर्व सांसद मीनाक्षी नटराजन ने कहा कि मेरे सामने ऐसा कही कोई मामला नहीं आया है। यदि ऐसा मामला होगा तो दोनों को समझाइश करेगें कि भविष्य में इस तरह ना हो। भीतरघात के प्रश्न पर नटराजन ने कहा कि पार्टी फोरम पर जो बात होती है। उनका सार्वजनिकरण करना उचित नहीं समझती हूं।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts