Breaking News

मंदसौर के जिलाध्यक्ष से क्या बोले पीएम मोदी…. की लगे हंसी के ठहाके?

मंदसौर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को नमो एप के जरीए भाजपा कार्यकर्ताओं से सीधा संवाद किया। पीएम ने जैसे ही कहा कि अब मप्र के मंदसौर चलते है वहां से सांसद सुधीर गुप्ता है। वहीं सांसद के पास बैठे जिलाध्यक्ष देवीलाल धाकड़ को देख कहा कि धाकड़ तो मेरे साथ का है। और ये क्या अब तो बाल भी चले गए है। प्रधानमंत्री के मुंह से यह सुनते ही पूरा ऑडिटोरियम हंसी के ठहाकों से गुंज उठा। इसके बाद उन्होंने जिलाध्यक्ष से पूछा की धाकड़ और क्या चल रहा है मंदसौर में। इस पर धाकड़ हाथ जोड़ खड़े रहे और मुस्करा दिए। इसके बाद अन्य कार्यकर्ताओं से बात की। इस दौरान दो कार्यकर्ताओं ने मोदी से सवाल किए।

अभी यहां रुकना नहीं है
शाम 4.30 बजे कुशाभाऊ ठाकरे ऑडिटोरियम में पीएम ने संवाद के दौरान प्रश्रों का जवाब देते हुए जीत का मंत्र दिया। और कहा कि 15 साल में प्रदेश में खूब काम हुआ है, बीमारी से विकसित राज्य बना है। मप्र अब दूसरे राज्यों के लिए प्रेरणा बन गया है, लेकिन यहां रुकना नहीं है। अभी और आगे जाना है। इसके लिए फिर सरकार बनाना है। उन्होंने मेरा बूथ सबसे मजबूर मंत्र देते हुए कार्यकर्ताओं को चौथी बार सरकार बनाने के लिए जुटने का आह्वान किया।

 

नागपुर में एक कमरे में एक माह तक साथ रहे थे मोदी व धाकड़

भाजपा जिलाध्यक्ष देवीलाल धाकड़ ने बताया कि 1977 में हम नागपुर में राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के मुख्यालय पर तृतीय वर्ष का प्रशिक्षण लेने गए थे। तब मोदी गुजरात में विभाग प्रचारक थे और वह भी नागपुर आए थे। इस दौरान एक माह तक एक कमरे में साथ ही रहे थे। तभी से उनसे आत्मीय संबंध है। उस समय धाकड़ मंदसौर में विभाग शारीरिक प्रमुख थे। इसके बाद संघ की प्रतिनिधि सभा में भाजपा की तरफ से बैठक में आए मोदी से मुलाकात हुई थी। मंदसौर जिले के ट्रांसपोर्टरों की समस्या को लेकर एक बार धाकड़ गुजरात भी गए थे। तब मोदी वहां मुख्यमंत्री थे। मोदी ने समस्या को समझकर इनका कार्य भी किया था।

About The Author

I am Brajesh Arya

Related posts